नई दिल्ली, प्रेट्र। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को टेलीफोन पर बात की। इस दौरान दोनों नेताओं ने प्रमुख द्विपक्षीय सहयोग के मुद्दों पर चर्चा की, जिनमें रक्षा तथा आतंकवाद जैसे विषय शामिल रहे। दोनों ने सहमति जताई कि भारत-रूस सहयोग वैश्विक मायने में महत्वपूर्ण है। रूसी राजनयिक सूत्र ने बताया कि इस दौरान पुतिन ने मोदी को लोकसभा चुनाव में सफलता के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, दोनों नेताओं ने गत वर्ष विशेष और विशेषाधिकार प्राप्त रणनीति में साझीदारी से हासिल उपलब्धियों की सराहना की। नेताओं ने मई में सोची में हुई सफल लंबी बातचीत और अक्टूबर में पुतिन के नई दिल्ली आगमन को भी याद किया। उन्होंने द्विपक्षीय संबंधों की गर्माहट बरकरार रखने पर सहमति जताई। इस दौरान रक्षा सहयोग और आतंकवाद से निपटने की रणनीति पर भी चर्चा हुई।

मंत्रालय ने कहा, 'दोनों देश संयुक्त राष्ट्र, ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका), शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) और अन्य बहुपक्षीय संगठनों में निकट परामर्श जारी रखेंगे।' दोनों नेताओं के बीच संवाद मुख्यत: द्विपक्षीय सहयोग और मौजूदा अंतरराष्ट्रीय स्थिति पर केंद्रित रहा। पुतिन ने इसी साल सितंबर में होने वाले ईस्टर्न इकोनामिक फोरम-2019 में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होने का निमंत्रण दिया। दोनों नेताओं ने एक दूसरे को नए साल की बधाई भी दी।

Posted By: Manish Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस