जयपुर (जेएनएन)। राजस्थान में कुछ ही महीनों में विधानसभा चुनाव होने हैं। राज्य की सत्ता पर फिर काबिज होने की कोशिश में लगी भाजपा ने अपना चुनाव प्रचार तेज कर दिया है। सूबे की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे 'राजस्थान गौरव यात्रा' शुरू कर रही है। चालीस दिन की इस यात्रा में वह कई जनसभाएं करेंगी और साथ ही उनका जनता के साथ संवाद भी होगा। इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद हैं। शाह यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। अमित शाह ने यहां लोगों को संबोधित भी किया। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जोरदार हमला बोला। शाह ने कहा कि राहुल गांधी हमसे चार साल का हिसाब मांगते हैं। लेकिन, देश की जनता कांग्रेस से चार पीढ़ी का हिसाब मांग रही है।

बतादें यात्रा का समापन 30 सितंबर को अजमेर जिले के पुष्कर में होगा। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बुलाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

40 दिन में छह हजार किलोमीटर सफर करेंगी वसुंधरा राजे
यात्रा के दौरान वसुंधरा राजे राज्य की 200 में से 165 विधानसभा क्षेत्रों में जाएंगी। एक दिन में औसतन चार से पांच सभाएं करेंगी। इस दौरान 371 जगह यात्रा का स्वागत होगा। गौरव यात्रा के दौरान राजे 40 दिन में 6 हजार 54 किलोमीटर की यात्रा करेंगी। यह उनकी सबसे कम समय में की जाने वाली सबसे लंबी चुनावी यात्रा होगी। राजस्थान में वसुंधरा ने अब तक तीन यात्राएं की है। 2003 में उन्होंने परिवर्तन यात्रा की थी। इसके बाद सूबे में भाजपा ने 120 सीटें जीती थी। 2008 में सुराज संकल्प यात्रा की और पार्टी ने 163 सीटें हासिल की।

कांग्रेस ने साधा निशाना
वहीं प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस ने एक बार फिर इस यात्रा के आयोजन और प्रयोजन पर निशाना साधा है। कांग्रेस पार्टी का कहना है कि मुख्यमंत्री को गौरव यात्रा की बजाय जवाबदेही यात्रा निकालनी चाहिए और जनता को बताना चाहिए कि वह अपने कितने चुनावी वादों को अब तक पूरा कर पाई हैं।

Posted By: Arti Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस