नई दिल्ली, प्रेट्र। अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत जॉन केरी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और वैश्विक नेताओं के आगामी सम्मेलन सहित जलवायु परिवर्तन से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की।

मोदी ने कहा- भारत और अमेरिका 2030 तक पृथ्वी पर क्लीन और ग्रीन एजेंडा पर बढ़ेंगे आगे

मुलाकात के बाद जारी बयान के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत और अमेरिका 2030 तक पृथ्वी पर क्लीन और ग्रीन तकनीक का एजेंडा लागू करने के लिए रचनात्मक सहयोग के साथ आगे बढ़ सकते हैं।

मोदी ने कहा- जलवायु संबंधी कार्यक्रमों के प्रति अमेरिकी राष्ट्रपति की प्रतिबद्धता सराहनीय

मोदी ने एक ट्वीट कर कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत जान केरी के साथ काफी उपयोगी चर्चा हुई। जलवायु संबंधी कार्यक्रमों के प्रति उनकी प्रतिबद्धता सराहनीय है। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि 2030 तक भारत-अमेरिका पृथ्वी पर क्लीन और ग्रीन तकनीक को बढ़ावा देने के लिए मिलकर बेहतर काम कर सकते हैं।

केरी ने कहा- ग्रीन तकनीक हासिल करने के लिए अमेरिका भारत को पूरा सहयोग देगा

बयान के मुताबिक केरी ने आश्वस्त किया कि भारत के जलवायु संबंधी योजनाओं और कार्यक्रमों के साथ ग्रीन तकनीक हासिल करने के लिए अमेरिका पूरा सहयोग देने के साथ वित्तीय मदद भी देगा। पीएम ने कहा कि ग्रीन तकनीक हासिल करने में भारत को अमेरिकी सहयोग से दुनिया के दूसरे देशों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति का खास ध्यान

उल्लेखनीय है जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन खासा ध्यान दे रहे हैं। उन्होंने 20 जनवरी को अपने शपथ ग्रहण के बाद अमेरिका के पेरिस जलवायु समझौते में लौटने की घोषणा की थी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021