नई दिल्ली, एएनआइ। कांग्रेस नेता और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने आवश्यक सेवा रखरखाव अधिनियम (एस्मा) लगाकर 500 से अधिक श्रमिकों को बर्खास्त कर दिया है। हिंदी में एक ट्वीट में, कांग्रेस नेता ने लिखा, 'उप्र में कोरोना काल में सरकार एंबुलेंस कर्मियों पर फूल बरसाने की बात करती थी और उन्होंने जैसे ही अपने अधिकारों की आवाज उठाई, सरकार उन पर लट्ठ बरसाने की बात कर रही है। सरकार ने एस्मा लगाकर 500 से ऊपर कर्मी बर्खास्त कर दिए और जनता परेशान है। ऐसी सरकार से प्रदेश को भगवान बचाए।'

27 मई, 2021 को, उत्तर प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश में आवश्यक सेवा रखरखाव अधिनियम (ESMA) लागू किया। यह अधिनियम राज्य सरकार के सभी विभागों और निगमों में छह महीने के लिए हड़ताल पर रोक लगाता है। इससे पहले, राज्य सरकार ने राज्य में 22 मई, 2020 को छह महीने के लिए एस्मा लागू किया था। उन्होंने 25 नवंबर, 2020 को प्रावधानों को और छह महीने के लिए बढ़ा दिया। बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में होने हैं।

वहीं, कुछ दिनों पहले गलत काम करने वालों की संपत्ति जब्त करने के बारे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ट्वीट पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ने पलटवार किया था और कहा था कि जायज मांगों के लिए आवाज उठाने वालों के खिलाफ डराने और धमकाने के लिए सत्ता का दुरुपयोग करना घोर अपराध है। योगी ने ट्वीट कर युवाओं से अपील की थी कि वे किसी के बहकावे में न आएं। ट्वीट में उन्होंने यह भी कहा था कि 'आज कोई गलत नहीं कर सकता है। जिसको अपनी प्रापर्टी जब्त करवानी हो, वह गलत कार्य करें।' योगी के ट्वीट को टैग करते हुए प्रियंका ने पलटवार किया था।

Edited By: Nitin Arora