नई दिल्ली, प्रेट्र। भाजपा केवल सांप्रदायिकता फैला सकती है। इसीलिए वह केरल में लव जिहाद का शिगूफा छोड़ रही है, लेकिन बहुलतावादी केरल में उसकी यह झांसेबाजी नहीं चलेगी। यह बात वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कही है। उन्होंने कहा, हाल ही में भाजपा में शामिल हुए 88 वर्षीय ई श्रीधरन (प्रख्यात मेट्रोमैन) केरल के राजनीतिक भविष्य नहीं बन सकते।

यूडीएफ के जीतने पर थरूर ने मुख्यमंत्री बनने से किया इन्कार

थरूर ने इस संभावना से इन्कार किया कि यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) के जीतने पर वह राज्य के मुख्यमंत्री बन सकते हैं। उन्होंने कहा, राज्य में कांग्रेस के पास कई प्रभावशाली और समर्थ नेता हैं। उन्हीं में से कोई केरल का मुख्यमंत्री बनेगा।

थरूर का दावा- कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ के पक्ष में हवा, पार्टी गठबंधन बनाएगी सरकार

थरूर ने दावा किया कि केरल में कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ के पक्ष में हवा बह रही है। पार्टी और उसके सहयोगी दल अच्छे बहुमत से सरकार बनाएंगे। दो मई को घोषित होने वाला चुनाव परिणाम यह बात साबित कर देगा।

थरूर ने कहा- केरल में भाजपा सांप्रदायिक कार्ड खेल रही, नहीं चलेगा लव जिहाद का शिगूफा

केरल में भाजपा के असर पर पूछे गए सवाल के जवाब में थरूर ने कहा, भाजपा राज्य में सांप्रदायिक कार्ड खेल रही है। वह लव जिहाद के नाम पर घृणा की राजनीति कर रही है। ऐसा कर वह समाज में बांटना चाहती है और चुनाव में उसका फायदा उठाना चाहती है, लेकिन केरल जैसे बहुलतावादी राज्य में यह संभव नहीं होगा। केरल के लोग हमेशा से मिल-जुलकर रहते आए हैं और आगे भी वहां पर सांप्रदायिक सौहार्द कायम रहेगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप