जयपुर,जेएनएन। केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु का कहना है कि राफेल विमानों की खरीद के मामले में कांग्रेस देश में झूठ का माहौल बना रही है। कांग्रेस को कोर्ट के फैसले पर भी भरोसा नहीं है। राफेल विमान खरीदी के मुद्दे पर जयपुर में मीडिया से बातचीत करते हुए सुरेश प्रभु ने कहा कि राफेल के मामले में प्रक्रिया का पूरा पालन किया गया। इसके बावजूद कुछ लोग इसे सुप्रीम कोर्ट ले गए। सुप्रीम कोर्ट ने इस पर जो फैसला सुनाया है, हम उसका स्वागत करते हैं। 

भाजपा देश की सुरक्षा को सबसे अहम मानती है। प्रभु ने कहा कि सिर्फ राजनीति करने के लिए हमारे प्रधानमंत्री पर झूठे आरोप लगाए गए। हमने देखा है कि कांग्रेस ने हमेशा किस तरह इस मामले में बाधा डालने की कोशिश की।  सुप्रीम कोर्ट ने यह बाधा हटाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि 2007 से 2014 तक मनमोहन सरकार में भी राफेल की खरीद का मामला चला था, लेकिन उन्होंने इस पर अंतिम फैसला नहीं किया। हम जानना चाहते हैं कि वायुसेना की जरूरत के बावजूद तत्कालीन सरकार ने फैसला क्यों नहीं किया और इसे लटका कर क्यों रखा?

प्रभु ने राजस्थान में भाजपा सरकार बदलने पर कहा कि राजस्थान की कई सालों से परंपरा रही है कि जो भी दल सत्ता में रहता है वह चुनाव के बाद विपक्ष की भूमिका में आ जाता है और बड़ी मात्रा में दोनों दलों में मतों का अंतर भी रहता है,लेकिन यह पहला चुनाव है जब सत्ता दल व विपक्ष के वोटों में मात्र आधा प्रतिशत का अंतर रहा।

राजस्थान के लोगों ने इस विधानसभा चुनाव में भाजपा और वसुंधरा राजे के नेतृत्व में हुए विकास कार्यों पर अपनी मुहर लगाई है। इस चुनाव में मिले मत प्रतिशत से इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। हम इसके लिए राजस्थान की जनता को धन्यवाद देते हैं। उन्होंने दावा किया कि आने वाले लोकसभा चुनाव में पार्टी यहां से फिर बहुमत हासिल करेगी और देश मे एक बार फिर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनेगी। 

राजस्थान में राफेल मुद्दे पर कांग्रेस के खिलाफ भाजपा करेगी प्रदर्शन 

राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद कांग्रेस को घेरने के लिए भाजपा की ओर से बुधवार को पूरे राज्य में प्रदर्शन किया जाएगा। प्रदेश के सभी जिलों में भाजपा विरोध प्रदर्शन कर कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपेगी। इस विरोध प्रदर्शन को भाजपा की लोकसभा तैयारियों के रूप में भी देखा जा रहा है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी ने पार्टी की सभी जिला इकाई को 19 दिसंबर को विरोध प्रदर्शन करने के निर्देश जारी किए हैं। राफेल मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार सार्वजनिक मंच से भ्रष्टाचार के आरोप लगाते रहे हैं। अब कोर्ट के फैसले के बाद भाजपा इसी मुद्दे पर अब राहुल गांधी को घेरने में जुट गई है। पार्टी के सभी बड़े नेता इस विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेंगे।

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस