जेएनएन, माला दीक्षित। लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों से पहले विपक्ष को तगड़ा झटका लगा है। सर्वोच्च अदालत ने वीवीपैट(VVPAT) को लेकर  21 विपक्षी दलों की पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया है। विपक्षी दलों ने सुप्रीम कोर्ट से 50 फीसद वीवीपैट पर्चियों को ईवीएम(EVM) से मिलाए जाने की मांग की थी। याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि वह मामले पर पुनर्विचार का इच्छुक नहीं है। 

बता दें कि विपक्षी दलों ने सुप्रीम कोर्ट से मांग की थी कि 50 फीसदी इवीएम नतीजों का मिलान वीवीपैट की पर्चियों से कराने का आदेश दिया जाए। आज सुनवाई के दौरान कोर्ट में चंद्रबाबू नायडू, डी राजा, फारूक अब्दुल्ला मौजूद थे, लेकिन कोर्ट ने सिर्फ एक मिनट की सुनवाई मे पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी। हालांकि, वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट से मांग करते हुए कहा कि 50 नहीं तो 30 या 25 फीसद का ही मिलान कराने का चुनाव आयोग को आदेश दिया जाए।

वहीं, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एन. चंद्रबाबू नायडू ने कहा है कि हम चुनाव प्रक्रिया में पारदर्शिता की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट गए थे। उन्होंने कहा कि अब हम दोबारा चुनाव आयोग जाएंगे और उनके दिशानिर्देशों को संशोधित करने का अनुरोध करेंगे।

इससे पहले 8 अप्रैल को हुई सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने हर विधानसभा क्षेत्र में पांच ईवीएम को वीवीपैट की पर्ची से मिलाने का आदेश दिया था। कोर्ट ने अपने इस आदेश में ईवीएम को वीवीपैट की पर्ची से मिलाने के आदेश को एक से बढ़ाकर पांच कर दिया था। बता दें कि वर्तमान में एक विधानसभा से सिर्फ एक ईवीएम का ही वीवीपैट की पर्ची से मिलान किया जाता है।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू और कांग्रेस सहित कुल 21 विपक्षी दलों ने अपनी पुनर्विचार याचिका में कहा है कि ईवीएम से वीवीपैट का मिलान एक के बजाए पांच ईवीएम प्रति विधानसभा करने से यह मात्र दो फीसद ही बढ़ा है। सिर्फ दो फीसद बढ़ने से कोई असर नहीं होगा। उनके हक में फैसला आने के बावजूद उनकी शिकायत खत्म नहीं हुई है। विपक्ष की मांग है कि इसके लिए पचास फीसद ईवीएम का वीवीपैट पर्चियों से मिलान होना चाहिए।

तेदेपा प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू की अध्यक्षता में देश भर के 21 विभन्न दलों के द्वारा जनहित याचिका दाखिल की गई थी। नायडू के अलावा याचिकाकर्ताओं में केसी वेणुगोपाल, अरविंद केजरीवाल, अखिलेश यादव, शरद पवार, डेरेक ओ ब्रायन, फारूक अब्दुल्ला, शरद यादव, अजीत सिंह, दानिश अली और मनोज झा शामिल हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप