चेन्नई, प्रेट्र। द्रमुक नेता एमके स्टालिन मंगलवार को निर्विरोध रूप से पार्टी का अध्यक्ष चुन लिए गए। इसके साथ ही तमिलनाडु के मुख्य विपक्षी दल की राजनीति का नया अध्याय शुरू हो गया है। स्टालिन पार्टी के दूसरे अध्यक्ष चुने गए हैं। इससे पहले उनके पिता एम. करुणानिधि करीब 50 वर्ष तक पार्टी के अध्यक्ष रहे। उन्हें 1969 में पार्टी का प्रमुख चुना गया था।

पार्टी में दूसरी बार हुआ है अध्यक्ष का चुनाव

पार्टी की आम सभा की बैठक में द्रमुक के महासचिव के. अंबाजगन ने स्टालिन के अध्यक्ष चुने जाने की घोषणा की। पार्टी प्रमुख के पद के लिए 26 अगस्त को नामांकन भरने वाले वह एकमात्र उम्मीदवार थे। पार्टी अध्यक्ष और पिता एम. करुणानिधि की मृत्यु के तीन सप्ताह बाद 65 वर्षीय स्टालिन को द्रमुक का प्रमुख चुना गया है। करुणानिधि का सात अगस्त को निधन हो गया था।

50 वर्ष तक करुणानिधि रहे पार्टी अध्यक्ष

बैठक में सदस्यों की तालियों की गड़गड़ाहट के बीच अंबाजगन ने कहा, 'पार्टी प्रमुख पद के लिए सिर्फ एमके स्टालिन ने नामांकन भरा था। चूंकि स्टालिन के अलावा अन्य कोई पार्टी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं लड़ रहा है, ऐसे में वह निर्विरोध पार्टी प्रमुख चुने जाते हैं।'

जैसे ही स्टालिन के नाम की घोषणा हुई, सभी लोग 'तलपति' (दलपति) के नारे लगाने लगे। द्रमुक के प्रधान सचिव दुरई मुरुगन को पार्टी का नया कोषाध्यक्ष चुना गया है। वह स्टालिन की जगह लेंगे, जिनके अध्यक्ष बनने के कारण पार्टी कोषाध्यक्ष का पद रिक्त हो गया है। पार्टी में कार्यकारी अध्यक्ष का पद समाप्त कर दिया गया है। पिता के जीवित रहते हुए स्टालिन इस पद पर थे।

धमकी दे चुके अलागिरी करेंगे पांच सितंबर को रैली

स्टालिन के बड़े भाई और द्रमुक से निष्कासित नेता एमके अलागिरी ने धमकी दी थी कि यदि उन्हें पार्टी में वापस नहीं लिया गया तो इसके अंजाम सही नहीं होंगे। अलागिरी का मदुरै में प्रभाव है और उन्होंने शक्ति प्रदर्शन के लिए पांच सितंबर को रैली करने की योजना बनाई है।

राहुल, ममता ने दी बधाई

 

 

 

Congratulations to Shri M K Stalin on being elected President of the DMK. I wish him happiness & success as he begins a new chapter in his political journey.

 

 

 

730 replies3,671 retweets14,839 likes

 

द्रमुक अध्यक्ष चुने जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने स्टालिन को बधाई दी है। गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'एमके स्टालिन को द्रमुक का अध्यक्ष चुने जाने की बधाई। उनके राजनीतिक सफर में नए अध्याय की शुरुआत पर उनकी खुशहाली और सफलता की कामना करता हूं।' पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी स्टालिन को नई जिम्मेदारी मिलने पर बधाई और शुभकामनाएं दीं। ममता ने ट्वीट किया, 'द्रमुक का प्रमुख चुने जाने पर एमके स्टालिन को बधाई और शुभकामनाएं।'

देश पर भगवा रंग चढ़ाने में जुटी है राजग सरकार

अध्यक्ष चुने जाने के बाद आम सभा में अपने पहले संबोधन में स्टालिन ने भाजपा नीत राजग की आलोचना की। पार्टी कार्यकर्ताओं से भाजपा नीत राजग सरकार से सबक सीखने को कहा। राजग पर देश का ध्रुवीकरण करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, 'नरेंद्र मोदी सरकार देश को भगवा रंग में रंगने का प्रयास कर रही है। इससे सबक सीखिए।'

अन्नाद्रमुक पर साधा निशाना

तमिलनाडु में अन्नाद्रमुक सरकार पर निशाना साधते हुए स्टालिन ने कहा कि इस रीढ़ हीन सरकार को उखाड़ फेंकने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि उनके पास तमिलनाडु के लिए एक बेहतर भविष्य का सपना है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि यदि उनसे कोई गलती होती है तो वे उनके खिलाफ आवाज उठाने से नहीं चूकें। 

Posted By: Bhupendra Singh