नई दिल्ली, एएनआइ/पीटीआइ। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह समेत पार्टी के अन्य नेताओं ने गुरुवार को राष्ट्रपति भवन पहुंच दिल्ली हिंसा पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को ज्ञापन सौंपा है। कांग्रेस नेताओं से मुलाकात की जानकारी खुद President of India के ट्विटर हैंडल से भी दी गई। इस दौरान ट्वीट में लिखा गया, 'श्रीमती सोनिया गांधी और डॉ मनमोहन सिंह के नेतृत्व में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति कोविंद से राष्ट्रपति भवन में मुलाकात की।'

वहीं, राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात के बाद सोनिया गांधी ने कहा, 'केंद्र और दिल्ली सरकार हिंसा पर मूकदर्शक बनी रही, हमने राष्ट्रपति कोविंद को इसके मद्देनजर ज्ञापन सौंपा है।' उन्होंने कहा कि हिंसा ने 34 लोगों की जान ले ली और लोगों के कारोबार खत्म कर दिए गए। इसके अलावा कांग्रेस ने राष्ट्रपति कोविंद से केंद्रीय गृह मंत्री को हटाने का आह्वान करते हुए अमित शाह पर कर्तव्य के त्याग का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति नागरिकों के जीवन, स्वतंत्रता और संपत्ति की सुरक्षा सुनिश्चित करें। सोनिया गांधी ने आगे बताया कि राष्ट्रपति ने कहा है कि वह हमारी मांगों का संज्ञान लेंगे, हम संतुष्ट हैं।

वहीं, कांग्रेसी प्रतिनिधिमंडल द्वारा राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा, 'हमने राष्ट्रपति से राजधर्म की रक्षा के लिए अपनी शक्ति का उपयोग करने का आग्रह किया है।' उन्होंने कहा की पिछले चार दिनों में दिल्ली में जो कुछ भी हुआ वो चिंता का विषय है और शर्म की बात है। इससे पहले बुधवार को चर्चा थी कि कांग्रेस नेता राष्ट्रपति भवन तक शांति मार्च निकालने जा रहे हैं, लेकिन किसी कारणवश यह संभव नहीं हो सका था। हालांकि, गुरुवार को पार्टी के बड़े नेता राष्ट्रपति से मिलने पहुंचे। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस