नई दिल्ली, पीटीआइ। महाराष्ट्र में कांग्रेस और शिवसेना साथ में मिलकर सरकार चला रही है, लेकिन गोवा में दोनों दलों की राहें जुदा हैं। गोवा विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस द्वारा शिवसेना को भाव नहीं दिए जाने से पार्टी नाराज है। शिवसेना नेता संजय राउत ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है। संजय राउत ने कहा कि कांग्रेस अगर खुद ही चुनाव में उतरती है तो वो सिंगल डिजिट से आगे नहीं बढ़ सकेगी।

राउत ने पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा, 'गोवा में कांग्रेस के अभी सिर्फ तीन विधायक हैं। हमने (शिवसेना और एनसीपी) ने कांग्रेस के कठिन समय में समर्थन देने की पेशकश की थी, लेकिन मुझे नहीं पता कि कांग्रेस क्या सोच रही है। कांग्रेस अगर अकेले चुनाव लड़ती है तो वो सिंगल डिजिट को पार नहीं कर पाएगी।'

कांग्रेस के साथ गठबंधन के लिए राउत ने गोवा कांग्रेस प्रभारी दिनेश गुंडुराव, सीएलपी नेता दिगंबर कामत और गोवा कांग्रेस प्रमुख गिरीश चोडनकर के साथ एक दौर की चर्चा की थी। राउत ने बताया कि कांग्रेस नेताओं के साथ चर्चा में उन्होंने 40 में से 30 सीटों पर लड़ने का आफर दिया था, बाकि सीटें सहयोगियों के लिए छोड़ने को कहा था।

गठबंधन के पक्ष में थे राहुल गांधी

राउत ने कहा कि ऐसी 10 विधानसभा सीटें, जहां कांग्रेस ने पिछले 50 वर्षों में चुनाव नहीं जीता है। शिवसेना, एनसीपी और गोवा फॉरवर्ड पार्टी को आवंटित की जा सकती हैं। राउत ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी गठबंधन के विचार के पक्षधर थे, लेकिन स्थानीय कांग्रेस नेतृत्व का दृष्टिकोण अलग था।

राकेश टिकैत से मिले संजय राउत

उधर, संजय राउत ने भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत से मुलाकात की है। संजय राउत ने गुरुवार को मुजफ्फरनगर में उनके आवास पर मुलाकात की।

Edited By: Manish Negi