नागपुर, एएनआइ। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि शिवसेना ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद के लिए अपनी विचारधारा से समझौता किया। गडकरी ने कहा, 'शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद के लिए अपनी विचारधारा से समझौता किया। कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना सत्ता के लिए एक साथ आए हैं। शिवसेना केवल 'भगवा' होने का दिखावा करती है, लेकिन वास्तव में यह अब कांग्रेस के रंग में रंगी है।' बता दें कि पिछले साल नवंबर में, उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। वह महागठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं, जिसमें शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस हैं।

वहीं, तीन पार्टियों की सत्ता के चक्कर में महाराष्ट्र के मंत्रिमंडल को बनने में भी समय लगा। सोमवार को मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया था, जिसमें 36 मंत्रियों को शामिल किया गया। हालांकि मंत्रिपरिषद के सदस्यों की संख्या अब 43 हो गई है जिसमें मुख्यमंत्री भी शामिल हैं। अब महाराष्ट्र मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद आज मंत्रालयों का बंटवारा होने की संभावना है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार बुधवार को महाअघाड़ी गठबंधन के तीनों दलों की बैठक हुई थी, सब दलों की नजर गृहमंत्रालय पर है जिसे लेकर पेंच अभी भी फंसा हुआ था। हालांकि इस पर सीएम उद्धव ठाकरे का कहना है कि कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी में विभागों के बंटवारे को लेकर आप सहमति बन चुकी है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस