मुंबई, एएनआइ। राफेल विमान को लेकर सियासी बयानबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। दशहरे के दिन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा किए गए शस्त्र पूजा के बाद से लगातार इसपर बयान आ रहे हैं। इसे लेकर भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने हैं। दोनों पार्टियां इसे लेकर एक दूसरे पर निशाना साध रही हैं। अब इस लड़ाई में एनसीपी प्रमुख शरद पवार कूद गए हैं। 

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार शरद पवार ने कहा, 'मुझे राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए गए फैसले पर कोई संदेह नहीं है। मुझे नहीं पता कि इसमें कितनी सच्चाई है, लेकिन मैंने पढ़ा है कि नए खरीदे ट्रक की तरह बुरी नजर से बचाने के लिए नींबू-मिर्च को राफेल विमान में लटकाया गया। इसके बारे में कोई क्या कहेगा। 

कांग्रेस ने बताया तमाशा

गौरतलब है कि राजनाथ सिंह द्वारा दशहरे के दिन राफेल को रिसीव करते वक्त शस्त्र पूजा की, जिसे कांग्रेस ने ड्रामा बताया है। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड्गे वे संदीप दीक्षित ने इसे लेकर भाजपा और राजनाथ सिंह पर निशाना साधा। उन्होंने इस पूजा को तमाशा बताया। इसके बाद लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने इसे ओछी राजनीति करार दिया है। 

भाजपा का पलटवार

भाजपा ने कांग्रेस नेताओं द्वारा दिए गए बयान पर पलटवार करने में देरी नहीं की। भाजपा नेताओं ने बफोर्स को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा। पहले गृह मंत्री अमित शाह ने इसे लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए हरियाणा में एक रैली के दौरान कहा कि कांग्रेस को समझना चाहिए किस बात का विरोध करना है किसका नहीं। उन्हें राफेल का सेना में शामिल अखर रहा है। 

क्वात्रोची की पूजा करने वालों को  दिक्कत

इसे लेकर भाजपा ने अपने आधिकारीक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ' कांग्रेस को  वायुसेना के आधुनिकीकरण और भारतीय रीति-रिवाज और परंपराओं से दिक्कत है। जो पार्टी क्वात्रोची की पूजा करती थी उसके लिए 'शास्त्र पूजा' स्वाभाविक रूप से एक समस्या है। और, खड़गे जी, बोफोर्स घोटाले के बारे में हमें याद दिलाने के लिए धन्यवाद।

यह भी पढ़े: राफेल की शस्‍त्र पूजा को ड्रामा कहनेवाले मल्लिकार्जुन पर भड़के संजय निरुपम, कहा- नास्तिक

यह भी पढ़े: राफेल की शस्‍त्र पूजा को मल्लिकार्जुन ने बताया 'ड्रामा', अमित शाह ने कहा- कांग्रेस को अखर रहा ये डील

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप