नई दिल्ली, प्रेट्र। कांग्रेस में नए अध्यक्ष को लेकर जारी बयानबाजी के बीच वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने कहा है कि पार्टी में बड़ी संख्या में लोग अध्यक्ष के तौर पर राहुल गांधी की वापसी चाहते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल पार्टी के शीर्ष नेता बने हुए हैं और उनको अपनी पसंद के अनुसार निर्णय लेने की अनुमति दी जानी चाहिए।

एक विशेष साक्षात्कार में खुर्शीद ने कहा कि कांग्रेस परिवर्तन के दौर से गुजर रही है, लेकिन पार्टी में नेतृत्व का कोई संकट नहीं है, क्योंकि सोनिया गांधी इसका संचालन कर रही हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री का बयान ऐसे समय आया है, जब शशि थरूर और संदीप दीक्षित जैसे नेताओं समेत पार्टी का एक वर्ग नेतृत्व के मसले का निर्णायक समाधान चाहता है। थरूर ने पिछले गुरुवार को कांग्रेस कार्य समिति से अनुरोध किया था कि वह नए नेता का चुनाव करे, ताकि कार्यकर्ताओं में उत्साह भरा जा सके और मतदाताओं को प्रेरित किया जा सके।

दीक्षित और थरूर के विचार के बारे में पूछे जाने पर खुर्शीद ने कहा कि हमने अतीत में चुनाव करवाया था। हमें ऐसे लोग भी मिले हैं, जिनका कहना है कि चुनाव अनिवार्य रूप से सबसे अच्छी चीज नहीं है। दो अलग-अलग विचार हैं। जब वैसी परिस्थिति आएगी तब देखा जाएगा। हालांकि, उन्होंने कहा कि मीडिया में ऐसी बातें करने से पार्टी को कोई फायदा नहीं होता है।

यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी कांग्रेस का नेतृत्व करने के लिए सबसे उपयुक्त व्यक्ति हैं, खुर्शीद ने कहा कि हम सब इसके बारे में कह चुके हैं। यह पत्थर पर खींची लकीर है और एकदम स्पष्ट है। लेकिन, यदि हम उनको अपना नेता मानते हैं ,तो उनको अपनी इच्छा से निर्णय लेने और समय तय करने का अधिकार देना चाहिए। हम उन पर अपनी राय थोपना क्यों चाहते हैं? उन्होंने कहा कि कांग्रेस की विरोधी पार्टियां किसी अन्य नेता की तुलना में सबसे ज्यादा राहुल गांधी पर हमला करती हैं। इसी से स्पष्ट हो जाता है कि पार्टी का शीर्ष नेता कौन है।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस