जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर राजधानी में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। दिल्ली को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। दिल्ली पुलिस, पैरा मिलिट्री, एनएसजी, एसपीजी व सेना के अलावा सुरक्षा एजेंसियों ने कई हफ्ते पहले से सुरक्षा का जिम्मा संभाल लिया है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस व पैरा मिलिट्री की तैनाती कर दी गई है।

परिंदा भी पर नहीं मार सकता ऐसी है दिल्ली की अभेद सुरक्षा

आतंकी अपने नापाक इरादों में कामयाब न हो सकें, इसके लिए अभेद सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं। ताकि कोई परिंदा भी पर नहीं मार सके। जमीन से आसमान तक सुरक्षा बलों का कड़ा पहरा रहेगा। शुक्रवार रात दस बजे दिल्ली की सभी सीमाओं पर बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी गई है।

दिल्ली सेना व पुलिस के हवाले 

दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी एसीपी अनिल मित्तल के मुताबिक सेना व पुलिस ने आधी रात को ही दिल्ली को अपने हवाले ले लिया है। पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने सभी आला अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने इलाके में रात भर गश्त करते रहें। नई दिल्ली, मध्य व उत्तरी जिले को तो खासतौर पर अभेद्य किला में तब्दील कर दिया गया है।

कमांडो दस्ता तैनात मुख्य आयोजन स्थल राजपथ की सुरक्षा में

मुख्य आयोजन स्थल राजपथ सहित राष्ट्रपति भवन, इंडिया गेट के अलावा लाल किला तक अलग-अलग सुरक्षा घेरा बनाया गया है। जिप्सियों पर अत्याधुनिक हथियारों से लैस कमांडो विभिन्न इलाकों में लगातार गश्त कर रहे हैं।

पुलिस की हर व्यक्ति पर नजर

सभी जिलों की पुलिस व पीसीआर को अलर्ट कर दिया गया है। स्वॉट दस्तों को हर तरह की परिस्थितियों से मुकाबला करने के लिए कई महत्वपूर्ण जगहों पर मुस्तैद कर दिया गया है। सभी बीट में तैनात पुलिस कर्मियों व थाना पुलिस को अपने-अपने इलाके में लगातार गश्त कर हर व्यक्ति पर नजर रखने को कहा गया है।

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस