नई दिल्ली, प्रेट्र। नेहरू मेमोरियल म्यूजियम और लाइब्रेरी (एनएमएमएल) सोसाइटी से कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, जयराम रमेश और कर्ण सिंह को हटा दिया गया है। सोसाइटी का पुनर्गठन करते हुए इसमें टीवी पत्रकार रजत शर्मा, गीतकार प्रसून जोशी और राज्यसभा सदस्य स्वप्नदास गुप्ता सहित अन्य प्रमुख लोगों को शामिल किया गया है। मंगलवार को जारी निर्देश के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसके चेयरमैन होंगे जबकि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह वाइस चेयरमैन होंगे।

नेहरू मेमोरियल सोसाइटी का पुनर्गठन

आदेश के मुताबिक, 'नेहरू मेमोरियल म्यूजियम और लाइब्रेरी सोसाइटी को मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन एंड रूल्स एंड रेगुलेशन ऑफ एनएमएमएल सोसाइटी के नियम-3 के तहत पुनर्गठित किया गया है। प्रधानमंत्री सोसाइटी की अध्यक्षता करेंगे जबकि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह वाइस चेयरमैन होंगे।' इसके अलावा गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर, केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन, प्रह्लाद पटेल, आइसीसीआर चेयरमैन विनय सहस्रबुद्धे, प्रसार भारती चेयरमैन ए. सूर्यप्रकाश के साथ ही व्यय, संस्कृति और आवास व शहरी मामलों के सचिव इसके सदस्य होंगे।

इनके अलावा संघ लोकसेवा आयोग के चेयरमैन, जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल फंड के प्रतिनिधि, एनएमएमएल के निदेशक राघवेंद्र सिंह इसके नए सदस्य होंगे। आदेश के मुताबिक जिन अन्य सदस्यों को शामिल किया गया है, उनमें अर्निबान गांगुली, सच्चिदानंद जोशी, कपिल कपूर, लोकेश चंद्र, मकरंद परांजपे, किशोर मकवाना, कमलेश जोशीपुरा व रिजवान कादरी हैं।

सदस्यों का कार्यकाल पांच साल का होगा

इन सभी सदस्यों का कार्यकाल पांच साल का होगा। इससे पहले केंद्र ने सभी प्रधानमंत्रियों का म्यूजियम बनाने का विरोध करने वाले चार सदस्यों को हटाकर उनकी जगह टीवी पत्रकार अर्नब गोस्वामी, विदेश मंत्री एस जयशंकर, भाजपा सांसद विनय सहस्रबुद्धे, आइजीएनसीए के चेयरमैन रामबहादुर राय को सोसाइटी का सदस्य नियुक्त किया था।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप