लंदन, प्रेट्र। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को बताया कि भ्रष्टाचार के खिलाफ व्यापक अभियान के तहत रेल मंत्रालय के अधिकारियों के प्रोफाइल की छानबीन की जा रही है ताकि पारदर्शिता का उदाहरण पेश किया जा सके।

तीन दिवसीय ब्रिटेन यात्रा के दौरान पीयूष गोयल ने भारतीय समुदाय के प्रतिनिधियों से बातचीत के दौरान कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने सभी विभागों में पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए कई कदम उठाए हैं और सभी राज्यों में भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है।

भारतीय उच्चायोग और इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में गोयल ने कहा, 'विभिन्न विभागों में कई भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।' भ्रष्टाचार मुक्त भारत के लक्ष्य को हासिल करने से संबंधित एक सवाल के जवाब में गोयल ने कहा, 'जिन राज्यों में हम सरकार में हैं, वहां हम बदलाव लाने की कोशिश कर रहे हैं।

बैंकिंग क्षेत्र को भ्रष्टाचार मुक्त बनाया जा रहा है। ज्यादा से ज्यादा पारदर्शिता लाई जा रही है ताकि लोगों को यह अहसास हो कि अब जानकारियां सार्वजनिक हैं और अगर हम अच्छा प्रदर्शन नहीं करेंगे तो बाहर कर दिए जाएंगे।'

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय का भी कामकाज संभाल रहे गोयल ने कहा, 'बीते वर्षो में हम हमेशा अच्छे समझौते नहीं कर पाए, लिहाजा उनमें से कुछ अब हमें परेशान कर रहे हैं। अब ऐसा कोई व्यापार समझौता नहीं किया जाएगा जो भारतीय हितों की कीमत पर हो।' वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा हाल में पेश आम बजट को उन्होंने सही मायनों में भारत को 2024-25 तक पांच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का रोडमैप करार दिया।

Posted By: Sanjeev Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप