नई दिल्‍ली, जेएनएन। Modilie शब्द पर अब ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी (Oxford Dictionaries) ने राहुल के दावे की हवा निकाल दी है। ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी ने ट्वीट कर कहा है कि हम इस बात की तस्‍दीक करते हैं कि  कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने Modilie शब्‍द के बारे में अपने स्‍क्रीन शॉट में जो दावे किए हैं वे फर्जी (fake) हैं। यह शब्‍द हमारी किसी डिक्‍शनरी में नहीं है। 

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष (Congress President) राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर कटाक्ष करते हुए अपने सिलसिलेवार ट्वीट्स में 'नए तरीके' से प्रधानमंत्री Narendra Modi पर हमला बोला था। उन्‍होंने अपने ट्विटर हैंडल (@RahulGandhi) पर मॉर्फ्ड इमेज शेयर की थी, जिसमें एक शब्द Modilie सर्च किया हुआ दिखाया गया था। कैप्शन में राहुल ने लिखा था कि इंग्लिश डिक्शनरी में एक नया शब्द जुड़ा है, जिसका स्नैपशॉट नीचे है। इसके साथ ही कैप्शन में स्माइली भी बनाया गया था... राहुल की शेयर की गई इस इमेज में Modilie शब्द को संज्ञा (Noun) बताया गया था। 

 

इमेज में Modilie का अर्थ बताया गया है- बार-बार बदला गया सच, दूसरा अर्थ बताया गया है, ऐसा झूठ जो आदतन बोला जाता है, तीसरा अर्थ दिया है... लगातार झूठ! साथ ही इसके प्रयोग भी दिए गए हैं। राहुल के इस स्क्रीन शॉट में दाईं ओर कांग्रेस का विज्ञापन भी नजर आ रहा है। हालांकि, राहुल ने जिस शब्‍द Modilie का जिक्र किया है, वह ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी में नहीं है। गूगल सर्च इंजन में भी तलाशने पर यह शब्द नहीं मिलता और ना तो shabdkosh.com में नजर आता है। इससे जाहिर होता है कि राहुल ने पीएम मोदी पर हमला करने के लिए इस शब्‍द Modilie का इस्‍तेमाल किया है।

राहुल यहीं नहीं रुकते, इसके कई घंटों बाद वह फ‍िर एक मॉर्फ्ड इमेज के साथ नया ट्वीट करते हैं। इसमें पीएम नरेंद्र मोदी की फोटो शॉप एडिटेड तस्‍वीर (मॉर्फ्ड इमेज) में एक वेबसाइट का यूआरएल (modilies.in) शेयर किया गया है और कैप्‍शन में लिखा है कि पीएम मोदी के झूठों की सबसे सटीक लिस्‍ट... इस वेबसाइट में कई खबरें हैं, जिनमें दावा किया गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कथित तौर पर कौन-कौन से झूठ बोले हैं।

राहुल गांधी ने Modilie शब्द को ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी पर सर्च करके उसके कई अर्थ दिखाए हैं। यहां हम आपको बता दें इस इस मामले में राहुल गांधी ने झूठ का सहारा लिया है। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि यही शब्द हमने भी ऑक्सफोर्ड की ऑनलाइन डिक्शनरी में सर्च किया, लेकिन जवाब जो मिला वह आप नीचे लगे स्क्रीनशॉट में देख सकते हैं। इसमें साफ लिखा गया है कि ऐसा कोई शब्द डिक्शनरी में मौजूद ही नहीं है, जबकि राहुल गांधी के अनुसार उन्होंने यहीं पर यह शब्द सर्च किया और फिर उसका स्क्रीनशॉट अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है।

इसके बाद हमने इस वेबसाइट के बारे में पता लगाया। हमें in.godaddy.com पर जाने के बाद जो सच्‍चाई सामने आई वह काफी हैरान करने वाली थी। वेबसाइट का डोमेन नाम modilies.in दिया गया है, जो D414400000006247637-IN डोमेन आईडी के नाम से पंजिकृत है। इसका रजिस्‍टर यूआरएल https://www.gandi.net/ है। साल 2018 में बनी इस वेबसाइट को पिछले महीने ही अपडेट किया गया है।

इतना ही नहीं यह किसके नाम से पंजीकृत है इसका ब्‍योरा भी नहीं दिया गया है। इसे रजिस्‍टर कराने वाले का ना तो कोई फोन नंबर दिया गया है, ना ही उसका कोई पता। इसके एडमिन या संगठन के बारे में भी कोई भी जानकारी सामने नहीं आती है। इससे इस वेबसाइट की गंभीरता संदेह के घेरे में आती है। जाहिर सी बात है कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने जिस वेबसाइट के हवाले से पीएम मोदी पर निशाना साधा है, वह खुद गंभीरता की कसौटी पर खरी नहीं उतरती...

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस