सूरत, प्रेट्र। कांग्रेस नेता राहुल गांधी गुजरात के सूरत स्थित एक कोर्ट में गुरुवार को पेश होंगे। वह खुद के खिलाफ दर्ज आपराधिक मानहानि के मुकदमे में अपना पक्ष रखेंगे। इसी साल लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने टिप्पणी की थी- 'सभी चोरों के उपनाम मोदी क्यों हैं?'

राहुल गांधी के दौरे को लेकर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा ने मंगलवार को स्थानीय नेताओं के साथ बैठक की। इसके बाद उन्होंने मीडिया को बताया कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी 10 अक्टूबर को यहां कोर्ट में उपस्थित होंगे। पार्टी कार्यकर्ता उनका पूरे रास्ते जोरदार स्वागत करेंगे। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट बीएच कपाडि़या ने मई में गांधी के खिलाफ समन जारी किया था।

भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी ने राहुल के खिलाफ आइपीसी की धारा 499 व 500 के तहत मुकदमा दर्ज कराया था। उन्होंने राहुल की टिप्पणी को मोदी समाज को अपमानित करने वाला बताया था। जुलाई में पिछली सुनवाई के दौरान कोर्ट ने राहुल को व्यक्तिगत तौर पर पेशी से छूट देते हुए सुनवाई की अगली तारीख 10 अक्टूबर तय की थी।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के दौरान एक चुनावी सभा में राहुल गांधी ने कहा था कि सभी चोरों के नाम मोदी है। इस जमकर बयानबाजी हुई थी। जवाब में पीएम मोदी ने छत्तीसगढ़ में एक चुनावी जनसभा के दौरान जमकर हमला बोला था। उस समय पीएम मोदी ने गांधी परिवार हमला करते हुए कहा था कि परिवार और 'वंशवाद की राजनीति का विरोध करने वालों को गालियां सुननी ही पड़ती हैं।

उस समय पीएम मोदी ने कहा था कि कांग्रेस रोज अपनी हदें पार कर रही है। जिसके नाम के साथ में मोदी लगा है उसे वह चोर कह रहे हैं। यह कैसी राजनीति का स्तर है। इन्होंने पूरे एक समाज को चोर बोल दिया है, वह भी सिर्फ तालियां बजवाने के लिए।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस