नई दिल्ली, पीटीआइ। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश से देश में एक बड़ा बदलाव ला रही है। जहां उसने उन लोगों को टिकट दिया है, जिन्होंने सत्तारूढ़ के हाथों अन्याय सहा है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस लोगों के साथ साझेदारी में विश्वास करती है और सेवा के नाटक में शामिल नहीं होती है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने हिंदी में लिखे एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से कहा कि हम देश में एक बड़ा बदलाव ला रहे हैं और इसकी शुरुआत उत्तर प्रदेश से की गई है। राहुल ने कहा कि हम शोषण के खिलाफ लड़ेंगे और उन्हें न्याय दिलाने में लोगों की आवाज बनकर जीतेंगे।

उन्होंने कहा कि हम 'जन सेवा' का नाटक नहीं करते हैं, हम साझेदारी बनाते हैं। नफरत की राजनीति खत्म हो रही है और कांग्रेस सत्ता में आ रही है।

गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए अब तक 125 उम्मीदवारों में से 50 महिलाओं को मैदान में उतारने के अपने वादे का सम्मान किया है। खास बात यह है कि उम्मीदवारों की इस सूची में वे लोग भी शामिल हैं, जिन्होंने भाजपा के हाथों अन्याय सहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मां, भाजपा शासन में आशा कार्यकर्ताओं के शोषण के खिलाफ आवाज उठाने वाली महिला और राज्य में निषाद समुदाय पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ वर्षों तक संघर्ष करने वाली महिला को पार्टी द्वारा चुनावी टिकट दिया गया है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची में एक महिला का नाम भी शामिल है, जिसने नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (सीएए) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। जिसके माध्यम से भाजपा देश की एकता को नुकसान पहुंचाना चाहती है। गांधी ने कहा कि ऐसी कई महिलाएं हैं जिन्हें पार्टी ने उत्तर प्रदेश में अपनी परिवर्तन की राजनीति के हिस्से के रूप में मैदान में उतारा है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव सात चरणों में 10 फरवरी से 7 मार्च तक होंगे और मतों की गिनती 10 मार्च को होगी।