नई दिल्ली, पीटीआइ। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर Howdy Modi शो में दिए 'अबकी बार ट्रंप सरकार' वाले बयान पर हमला किया। राहुल ने कहा कि यह प्रधानमंत्री की अक्षमता दिखाता है। साथ ही कहा कि यह भारत के लिए डेमोक्रेट्स के साथ संबंधों पर समस्याएं पैदा करेगा। उन्होंने विदेश मंत्री एस जयशंकर को पीएम मोदी की अक्षमता को ढंकने के लिए धन्यवाद दिया और उनसे प्रधानमंत्री को कूटनीति के बारे में थोड़ा सा सिखाने का आग्रह किया।

राहुल गांधी द्वारा ट्वीट किया गया, 'एस. जयशंकर जी का धन्यवाद जिन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अक्षमता को छुपा लिया। उनके(पीएम मोदी) इस तरह के समर्थन ने भारत के लिए डेमोक्रेट्स के साथ संबंधों पर सवाल खड़े किए हैं। मुझे उम्मीद है कि आपके हस्तक्षेप से ये अब ठीक हो जाएगा। अब आप इसपर काम कर रहे हैं तो उनको(पीएम मोदी) कुछ कूटनीति के बारे में भी सिखाएं।'

 

उन्होंने अपने ट्वीट के साथ एक समाचार रिपोर्ट को टैग किया, जिसमें जयशंकर के हवाले से कहा गया था कि प्रधानमंत्री ने जो Howdy Modi कार्यक्रम में कहा उसे बहुत सावधानी से समझने की जरूरत है। बता दें कि विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा था कि भारत का विदेशी नेताओं के प्रति "गैर-पक्षपातपूर्ण" दृष्टिकोण है। उन्होंने कहा उस दौरान मंच पर मोदी केवल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शब्दों को दोहरा रहे थे।

क्या है मामला?

ह्यूस्टन में आयोजित 'Howdy Modi' के मेगा इवेंट में भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का समर्थन किया था। पीएम मोदी ने हाउडी मोदी के दौरान ट्रंप की जमकर तारीफ की थी। इस दौरान उन्होंने अपने फेमस नारे का भी इस्तेमाल किया। उन्होंने 50,000 हजार से ज्यादा भारतीय-अमेरिकन के सामने 'अब की बार ट्रंप सरकार' का नारा दिया था। इसके कुछ दिनों बाद अब एस जयशंकर ने एक स्पष्टीकरण जारी किया और कहा कि मोदी ने ट्रंप को चुनाव के मद्देनजर किसी प्रकार का समर्थन नहीं दिया।

उनसे जब पूछा गया कि क्या मोदी ने ट्रंप के लिए कैंपेनिंग की तो विदेश मंत्री बोले- नहीं, ऐसा कुछ नहीं कहा। मुझे लगता है कि पीएम मोदी ने ह्यूस्टन में जो भी कहा उसे बहुत सावधानी से समझने की जरूरत है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021