मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। प्रियंका गांधी वाड्रा ने राबर्ट वाड्रा को पूछताछ के लिए बुलाने के ईडी के कदम को राजनीतिक मंशा से की गई कार्रवाई ठहराया है। ईडी की कार्रवाई में अपने पति राबर्ट के साथ मजबूती से खड़े होने का साफ संदेश देते हुए प्रियंका ने लोकसभा चुनाव की ओर इशारा करते हुए कहा कि पूरी दुनिया को मालूम है कि यह क्यों किया जा रहा है। प्रियंका खुद अपनी गाड़ी में राबर्ट के साथ उन्हें ईडी के जामनगर हाउस दफ्तर छोड़ने गई। उसके बाद वह वहां से सीधे कांग्रेस मुख्यालय 24 अकबर रोड पहुंचीं और अपना कार्यभार संभाला।

पार्टी मुख्यालय में मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कार्रवाई को राजनीति से प्रेरित साबित करने में कोई हिचक नहीं दिखाई। चुनाव की ओर इशारा करते हुए कहा कि सबको मालूम है कि यह क्यों किया जा रहा है। प्रियंका ने कहा, 'वे मेरे पति हैं, मेरा परिवार है और मैं अपने परिवार के साथ खड़ी हूं।'

प्रियंका गांधी ने राबर्ट के खिलाफ ईडी के मामलों पर मुखर बयान के साथ यह स्पष्ट संदेश दे दिया कि सियासी मैदान में उतरने के बाद वे इसकी वजह से बैकफुट पर नहीं जाएंगी। प्रियंका के सियासी मैदान में उतरने के बाद से नए जोश की उम्मीद कर रहे कांग्रेस नेताओं को राबर्ट वाड्रा के ईडी में चल रहे मामले और जमीन सौदों का विवाद ही एकमात्र चिंता का बिंदु रहा है। पार्टी कार्यकर्ताओं-नेताओं की इसी चिंता को दूर करने की रणनीति के तहत प्रियंका ने राबर्ट के मामले में बैकफुट पर नहीं होने का संदेश देने का प्रयास किया।

कांग्रेस ने भी राबर्ट से ईडी की पूछताछ को चुनावी मकसद से उठाया गया कदम करार दिया। पार्टी प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने कहा कि वाड्रा के खिलाफ मामले बेसिर-पैर और कल्पना पर आधारित कहानियों के जरिये बनाए गए हैं। चुनावी मौसम में ईडी या दूसरी एजेंसियां ऐसे समन जारी करने की अपनी गति और तेज करेंगी।

सेल्फी लेने की होड़
प्रियंका गांधी जब पदभार संभालने के लिए पार्टी मुख्यालय पहुंचीं, तो उनके साथ सेल्फी लेने की होड़ मच गई। बुधवार को पार्टी मुख्यालय पहुंचकर उन्होंने अपने दफ्तर में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। उनके स्वागत के लिए तमाम पार्टी कार्यकर्ता पहले से मौजूद थे। प्रियंका ने कार्यकर्ताओं से उनका हाल-चाल भी पूछा। कांग्रेस दफ्तर में पत्रकारों ने उनको घेर लिया और उनसे सवाल पूछने लगे। महासचिव बनने पर उन्होंने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि राहुलजी ने यह जिम्मेदारी मुझे सौंपी है। पार्टी की नेता नगमा ने प्रियंका के साथ अपनी फोटो ट्विटर पर शेयर करते हुए उन्हें बधाई दी।

सिंधिया ने भी कांग्रेस कार्यालय में की पूजा
वहीं कांग्रेस के एक और महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी आज कांग्रेस कर्यालय में भगवान गणेश की पूजा-अर्चना कर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी का कार्यभार संभाला। सिंधिया ने नई दिल्ली के AICC कार्यालय में आज मंगलकर्ता गजानन गणेश जी की पूजा के साथ कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव के रूप में पार्टी को और मजबूत करने के संकल्प के साथ कार्य प्रारंभ किया।

एक ही दफ्तर से काम करेंगे सिंधिया और प्रियंका 
कांग्रेस कार्यालय में प्रियंका गांधी वाड्रा और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आज बतौर राष्ट्रीय महासचिव कांग्रेस अपना कामकाज संभाल लिया है। जहां प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान दी गई है तो वहीं सिंधिया को पश्चिमी उत्तरप्रदेश की जिम्मेदारी दी गई है। सिंधिया और प्रियंका दोनों एक ही कमरे से अपने मिशन की देख-रेख करेंगे। पहले यह कमरा राहुल गांधी का था जिसपर कल प्रियंका गांधी की नेमप्लेट लगाई गई है, तो आज सिंधिया ने भी गणेश भगवान की आरती कर अपने कार्य का शुभारंभ कर दिया है।

इसके पहले वो मंगलवार को अमेरिका से वापस स्वदेश लौटीं थी, जहां वो अपनी बेटी का इलाज करवाने गयीं थीं। बुधवार की सुबह वो अपने पति रॉबर्ट वाड्रा के साथ प्रवर्तन निदेशाल के दफ्तर पहुंची थी जहां उनके पति से पूछताछ की जानी है।  

Posted By: Ravindra Pratap Sing

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप