जबलपुर, एजेंसी। Lok Sabha Elections-2019 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को जबलपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में नामदार तो दूसरी ओर मध्य प्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस के मुख्यमंत्री अपनी संतानों का कॅरियर बनाने में लगे हैं। कांग्रेस की रणनीति रही है कि लोगों को विकास के लिए तरसाया जाए। कांग्रेस के लोगों को केवल अपने ही परिवार और वंश की चिंता होती है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि याद करिये कांग्रेस के लोग 'स्‍वच्‍छ भारत मिशन' का कैसे मजाक उड़ाते थे। उन्‍होंने स्‍वच्‍छता के बारे में मेरे विचार को छोटा कहने का कोई मौका नहीं छोड़ा। जब मैं झाड़ू उठाता था कांग्रेस के लोग पूरे दिन सोशल मीडिया पर मुझे ट्रोल करने में बिताते थे। जब हमने कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई की तब तकिए में, दीवारों में रखा माल बाहर आया तब भी उन लोगों ने मेरे खिलाफ अभियान चलाया था। कांग्रेस के लोगों ने आपको भड़काने के लिए क्या कुछ नहीं किया। 

प्रधानमंत्री ने विपक्षी दलों के नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले जो कह रहे थे कि कोई लहर नहीं है, अब उन सबने घुटने टेक दिए हैं। वे जो कुछ दिन पहले तक मोदी को गाली देने में कॉम्पीटिशन कर रहे थे अब डिक्शनरी में यह खोजते हैं कि आज मोदी को कौन सी गाली देनी है। ये लोग मुझे गालियां देते रहे, मेरा मजाक उड़ाते रहे और मैंने दुनिया के सबसे बड़े नेटवर्क, भारत के पोस्ट ऑफिस को ही बैंकों में बदलने का बीड़ा उठा लिया। बैंकिंग सेवाएं, ऑनलाइन बैंक सेवाएं, गांव-गांव घर तक पहुंचें, ये काम शुरू किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह चुनाव सामान्य नहीं है। यह चुनाव, कौन सांसद या कौन प्रधानमंत्री हो, केवल इसका भी नहीं है। यह सुखी, सुरक्षित भारत बनाने का चुनाव है। आपके बच्चों का भविष्य क्या हो, इसकी गारंटी लेने का चुनाव है। यह दुनिया में भारत को बेहतर स्थिति में पहुंचाने का चुनाव है। इस लोकसभा चुनाव में जो नौजवान पहली बार वोट डालेंगे, उनको तय करना है कि वो 21वीं सदी की मजबूत नींव अगले पांच साल में कौन रख पाएगा। 

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जो पैसे गरीबों की भलाई के लिए दिल्ली से भेजे गए थे। उस रकम को मध्य प्रदेश में आपने जिनको सत्ता दी उन्होंने लूट लिया है। मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार ढाई महीने में कोई बड़ा काम नहीं कर पाई लेकिन उसने कानून व्यवस्था को चौपट करने का काम जरूर किया है। कांग्रेस की सरकार आने से डकैतों और अपहरणकर्तों को ऊर्जा मिल गई है। तबादला उद्योग खूब फल फूल रहा है। मध्य प्रदेश में नोटों से भरे थैले के थैले, बक्से के बक्से, कांग्रेसी जमात के पास से मिल रहे हैं। कांग्रेस ने रिकॉर्ड छह महीने के भीतर तुगलक रोड घोटाला किया है। 

Edited By: Krishna Bihari Singh