जयपुर, एजेंसियां। उदयपुर में मंगलवार को दो बदमाशों ने दिनदहाड़े नूपुर शर्मा के एक कथित समर्थक का दिनदहाड़े कत्‍ल कर दिया। बताया जाता है कि जिस व्‍यक्ति की हत्‍या की गई है उसने कुछ दिन पहले ही नूपुर शर्मा के समर्थन में एक सोशल मीडिया पोस्ट शेयर किया था। दोनों आरोपियों ने सिर काटे जाने की शेखी बघारते हुए एक वीडियो पोस्ट किया और पीएम मोदी की जान को भी धमकी दी। इस वारदात को लेकर जहां लोगों में भारी आक्रोश है वहीं सियासत भी गरमा गई है।

मरुधरा रक्तरंजित है, छलनी है… अशोक गहलोत जी जागिए

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि उदयपुर में निर्दोष व्यक्ति की नृशंस और बर्बरतापूर्ण हत्या गहलोत सरकार की कानून व्यवस्था पर एक बड़ा सवालिया निशान है। इसकी जितनी निंदा की जाए कम है। राजस्‍थान तुष्टिकरण के राजनीति की आग में जल रहा है जिसकी लपटें सभ्य समाज को विचलित कर रही हैं। एक के बाद एक वीभत्स वारदातें इंगित करती हैं कि कांग्रेस ने राजनैतिक लाभ के लिए प्रदेश को जंगलराज में बदल दिया है। मरुधरा रक्तरंजित है, छलनी है… अशोक गहलोत जी जागिए।

वसुंधरा राजे बोलीं- तुष्टिकरण के कारण अपराधियों के हौसले बुलंद

वहीं राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता वसुंधरा राजे ने कहा- उदयपुर में एक निर्दोष युवक की निर्मम हत्या से यह स्पष्ट हो गया है कि राज्य सरकार की शह और तुष्टिकरण के कारण अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। राज्य सरकार की इसी नीति के कारण प्रदेश में सांप्रदायिक उन्माद और हिंसा की स्थिति उत्पन्न हुई है। इस घटना के पीछे जिन लोगों और संगठनों का हाथ है उन्हें बेनकाब किया जाए।

भाजपा ने बताया प्रशासन की बड़ी विफलता

उदयपुर हत्याकांड पर राजस्थान में विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि हमने इस घटना पर मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत से बात की है। हमारी मांग है कि इस वारदात में शामिल लोगों को तत्‍काल गिरफ्तार किया जाए और पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता दी जाए। यह घटना एक व्यक्ति के कारण संभव नहीं है। इसमें किसी संगठन का भी हाथ हो सकता है। यह भयावह और प्रशासन की बड़ी विफलता है।

राठौर बोले- तालिबानी स्टेट बनने की राह पर राजस्थान

भाजपा नेता राज्‍यवर्धन सिंह राठौर ने राजस्‍थान सरकार पर निशाना साधा। उन्‍होंने कहा- कांग्रेस राज में तालिबानी स्टेट बनने की राह पर राजस्थान... कांग्रेस के मुस्लिम तुष्टिकरण ने जेहादियों का दुस्साहस इतना बढ़ा दिया है कि वे खुलेआम हिंदुओं की हत्याएं कर रहे हैं, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को धमकियां दे रहे हैं। यह अराजकता गहलोत सरकार द्वारा मजहब विशेष के उपद्रवियों को ढील देने का परिणाम है।

कांग्रेस सरकार की तुष्टीकरण नीति का नतीजा है वारदात

राजस्थान भाजपा के अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि उदयपुर हत्याकांड राज्य में कांग्रेस सरकार की तुष्टीकरण नीति का नतीजा है। पीड़ित ने सुरक्षा मांगी थी, लेकिन पुलिस ने नहीं दी, यह सरकार की लापरवाही को दर्शाता है। आज राजस्थान में स्थिति ऐसी है कि कई जगहों पर हिंदुओं पर हमले हो रहे हैं। यह मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तुष्टिकरण की राजनीति के कारण हो रहा है।

उदयपुर में हुई क्रूर हत्‍या निंदनीय

वहीं एआइएमआइएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि उदयपुर में हुई क्रूर हत्‍या निंदनीय है। इस नृशंस हत्‍या को कोई भी डिफेंड नहीं कर सकता है। हमारी पार्टी का रुख है कि किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का हक नहीं है। हमने हिंसा का विरोध किया है। हमारी राज्‍य सरकार से मांग है कि वह आरोपियों पर सख्‍त से सख्‍त कार्रवाई करे। कानून के राज को कायम रखना होगा।

राहुल बोले- स्‍तब्‍ध हूं 

वहीं राहुल गांधी ने कहा कि उदयपुर में हुई जघन्य हत्या से मैं स्तब्ध हूं। धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं की जा सकती। इस हैवानियत से आतंक फैलाने वालों को तुरंत सख्‍त सजा मिले। हम सभी को साथ मिलकर नफरत को हराना है। मेरी सभी से अपील है, कृपया शांति और भाईचारा बनाए रखें।

सचिन पायलट ने शांति बनाए रखने की अपील की

कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा कि उदयपुर में युवक की निर्मम और दिल दहलाने वाली हत्या की घटना अत्यंत दुखद एवं निंदनीय है, मैं इसकी भर्त्सना करता हूं। इस अमानवीय कृत्य को अंजाम देने वाले अपराधियों को सख्त से सख्त सजा दी जाए। मैं सभी से अपील करता हूं कि शांति और भाईचारा बनाए रखें।

सीएम गहलोत ने घटना को बताया शर्मनाक 

राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (Rajasthan CM Ashok Gehlot) ने जोधपुर एयरपोर्ट पर संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि इस घटना की जितनी निंदा की जाए वह कम है। बहुत चिंता वाली बात है कि इस प्रकार से लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। यह बहुत दुखद भी है और शर्मनाक भी... मैं समझाता हूं कि माहौल को ठीक करने की जरूरत भी है। पूरे देश के भीतर तनाव का खतरनाक माहौल बन गया है।

केंद्र पर निशाना लगाने से बाज नहीं आए गहलोत  

मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा- मैं बार बार बोलता हूं कि प्रधानमंत्री मोदी जी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जी को इस मसले पर देश को संबोधित करना चाहिए। मेरा सवाल है आप पूरे देश को क्‍यों नहीं संबोधित कर रहे हैं। किन्‍हीं कारणों से देश में जो हालात बन गए हैं। गलियों और मुहल्‍लों में लोग इसे समझ नहीं पा रहे हैं। कस्‍बों में जिनकी आबादी कम है वो लोग चिंतित और डरे हुए हैं।

Edited By: Krishna Bihari Singh