मुंबई, एजेंसी। शिवसेना नेता संजय राउत को आज बड़ा झटका लगा है। पात्रा 'चाल' घोटाले से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में शिवसेना नेता की ईडी हिरासत को 8 अगस्त तक बढ़ा दिया गया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आज गिरफ्तार संजय राउत को धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) अदालत में पेश किया, जिसके बाद कोर्ट ने यह फैसला सुनाया। बता दें कि रविवार आधी रात को राउत को वित्तीय संपत्ति लेनदेन में कथित वित्तीय अनियमितताओं के संबंध में गिरफ्तार किया था।

पहले भी आठ दिन की मांगी थी हिरासत

ईडी ने सोमवार को राउत को पीएमएलए अदालत के न्यायाधीश एमजी देशपांडे के समक्ष पेश किया था और आठ दिनों के लिए उसकी रिमांड मांगी थी। लेकिन अदालत ने शिवसेना नेता को चार अगस्त तक एजेंसी की हिरासत में भेज दिया। एजेंसी ने सोमवार को अदालत को बताया था कि राउत और उनके परिवार को आवास पुनर्विकास परियोजना में कथित अनियमितताओं से एक करोड़ रुपये से अधिक का अवैध धन प्राप्त हुआ है।

1,034 करोड़ के घोटाले का है मामला

बता दें कि राउत पर प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई 1,034 करोड़ रुपयों के पात्रा चाल घोटाले के सिलसिले में हुई है। ईडी ने रविवार को राउत के घर पर नौ घंटे तक छापेमारी करने के बाद इस मामले में उन्हें गिरफ्तार किया था। गौरतलब है कि राउत के घर ईडी ने पिछले सप्ताह ही छापेमारी की थी, छापेमारी के दौरान उनके घर से 11.5 लाख रुपये की नकदी बरामद हुई थी।

Edited By: Mahen Khanna