नई दिल्ली, प्रेट्र। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना को रोकने का कोई और रास्ता नहीं है। अगर उसके संक्रमण के चक्र को तोड़ना है तो सोशल डिस्टेंसिंग करनी ही होगी। यह सभी के लिए है। केवल मरीजों के लिए ही नहीं बल्कि पीएम तक के लिए है। इसीलिए पूरे देश में हिंदुस्तानियों को बचाने के लिए रात 12 बजे से तीन हफ्ते के लिए संपूर्ण लॉकडाउन हो गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर एक हफ्ते में दूसरी बार देश को संबोधित करते हुए कहा कि रात बारह बजे के बाद से घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह से पाबंदी लगाई जा रही है। देश के हर जिले, गांव, शहर गली-मुहल्ले में बाहर आने पर पूरी सख्ती से पाबंदी होगी। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की संक्रमण साइकिल तोड़ने के लिए 21 दिन का समय बहुत महत्वपूर्ण है। अगर यह 21 दिन नहीं संभले तो यह देश 21 साल पीछे चला जाएगा। अगर अभी भी नहीं संभले तो कई परिवार तबाह हो जाएंगे।

पिछले दो दिनों से देश के कई राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में लॉकडाउन कर दिया गया है। राज्य सरकारों के इन प्रयासों का बहुत महत्व है। देश को इसकी आर्थिक कीमत उठानी पड़ेगी। लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना, आपके परिवार को बचाना ही भारत सरकार और राज्य सरकारों की सबसे बड़ी प्राथमिकता है। इसलिए आप सबसे प्रार्थना है कि आप सब इस समय जहां भी हैं, वहीं बने रहें। देश में यह लॉकडाउन तीन सप्ताह के लिए होगा।

आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मणरेखा खींच दी है 

उन्होंने कहा कि गांव में हो या शहर में हों, एक ही काम करें कि अपने घर में ही रहें। इस लॉकडाउन के तहत आपके दरवाजे पर एक लक्ष्मणरेखा खींच दी गई है। घर से बाहर आपका एक कदम कोरोना जैसी महामारी को आपके घर में ला सकता है। कई बार कोरोना से संक्रमित व्यक्ति शुरुआत में एकदम स्वस्थ लगता है। इसलिए एहतियात बरतिये, अपने घरों में रहिए। जो लोग घर में हैं, वह सोशल मीडिया पर बहुत इनोवेटिव तरीके से इस बात को बता रहे हैं। एक बैनर जो मुझे भी पसंद आया मैं आपसे भी साझा करना चाहता हूं। कोरोना यानी कोई रोड पर ना निकले।

67 दिनों में एक लाख मरीज और दो लाख के ऊपर जाने में सिर्फ चार दिन

अगर आज किसी भी व्यक्ति के शरीर में कोरोना वायरस पहुंचता है तो उसके लक्षण दिखने में कई कई दिन लग जाते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट बताती है कि इस बीमारी से संक्रमित सिर्फ एक व्यक्ति सैंकड़ों लोगों को संक्रमित कर सकता है। डब्लूएचओ का एक और आंकड़ा बहुत अहम है। कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या को एक लाख पहुंचने में 67 दिन लगे थे। फिर अगले एक लाख (यानी दो लाख) लोग सिर्फ 11 ही दिन में संक्रमित हो गए। यह और भी भयावह है कि दो लाख से आगे यह बीमारी पहुंचने में सिर्फ चार दिन लगे। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि ये कितनी तेजी से फैलता है। इसीलिए चीन, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, इटली, फ्रांस जैसे साधन संपन्न देशों में जब कोरोना वायरस ने फैलना शुरू किया तो वहां भी हालात बेकाबू हो गए।

केंद्र ने दिया 15 हजार करोड़ रुपये का पैकेज 

अब कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए केंद्र सरकार ने 15 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। इससे कोरोना से जुड़ी जांच तकनीक, वेंटिलेटर,आईसीयू बेड और अन्य उपकरण और पैरामैडिकल साधन भी बढ़ाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों से कहा कि सभी के लिए स्वास्थ्य सेवाएं ही पहली प्राथमिकता होनी चाहिए। पूरा अमला देश के साथ खड़ा है। प्राइवेट अस्पताल भी सरकार के साथ काम करने आ रहे हैं।

अफवाह और अंधविश्वास से बचें

पीएम मोदी ने कहा कि आपसे आग्रह है कि किसी भी अफवाह और अंधविश्वास से बचें। आप केंद्र व राज्य सरकार और चिकित्सकों के निर्देशों का पालन करें। इस बीमारी के लक्षणों के दौरान बिना डाक्टरी सलाह के कोई भी दवा न लें। इससे सेहत को और नुकसान होगा। सभी नागरिक प्रशासन के निर्देशों का पालन करें। 21 दिन का लाकडाउन लंबा समय है। लेकिन आपके परिवार की रक्षा के लिए यही एक अहम रास्ता है। हर हिंदुस्तानी इस मुश्किल घड़ी से विजयी होकर निकलेगा। आप अपना ध्यान रखिए और अपनों का ध्यान रखिए। उन्होंने कहा कि आप सभी जनता कफ्र्यू की सफलता के लिए बधाई के पात्र हैं।

जनता कर्फ्यू की सफलता के लिए पीएम ने देशवासियों को दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 22 मार्च को हमने जनता कर्फ्यू का जो संकल्प लिया था, एक राष्ट्र के नाते उसकी सिद्धि के लिए हर भारतवासी पूरी संवेदनशीलता और जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया। बच्चे, बुजुर्ग, गरीम-मध्यम हर वर्ग लोग परीक्षा की इस पल में साथ आए। जनता कर्फ्यू को हर भारतवासी से सफल बनाया। जनता कर्फ्यू ने बता दिया कि जब देश और मानवता पर संकट आता है तो हम सभी भारतीय मिलकर एकजुट होकर उसका मुकाबला करते हैं। आप सभी जनता कर्फ्यू की सफलता के लिए बधाई के पात्र हैं।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस