नई दिल्ली, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय जापान दौरे पर रवाना हो गए हैं। पीएम वहां 28 और 29 अक्टूबर को वार्षिक सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। मोदी ने जापान को आर्थिक और प्रौद्योगिकी आधुनिकीकरण के क्षेत्र में भरोसेमंद सहयोगी बताया है। जापान दौरे से एक दिन पहले मोदी ने दोनों देशों के गठजोड़ को बेहद खास बताया। बता दें कि प्रधानमंत्री बनने के बाद जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी के साथ मोदी की यह 12वीं मुलाकात है। दोनों के बीच पहली मुलाकात सितंबर, 2014 में हुई थी।

भारत-जापान संबंध पर मोदी ने कहा, 'हमारे बीच एक विशेष रणनीतिक एवं वैश्विक साझेदारी है। जापान के साथ आर्थिक और रणनीतिक दोनों ही मोर्चों पर हमारे संबंध पिछले कुछ वर्षों में पूरी तरह बदल गए हैं। आज यह एक उद्देश्यपूर्ण साझेदारी है। यह भारत की एक्ट ईस्ट पॉलिसी का मजबूत स्तंभ है। मुक्त, खुला एवं समावेशी एशिया-प्रशांत क्षेत्र हम दोनों का साझा लक्ष्य और प्रतिबद्धता है।'

मोदी ने कहा, 'हम एक-दूसरे के पूरक हैं और यही दोनों देशों के गठजोड़ को एक जिताऊ गठजोड़ बनाता है। आज की तारीख में जापान हमारा सबसे भरोसेमंद सहयोगी है।' प्रधानमंत्री ने कहा कि मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल और डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर आर्थिक संबंधों की मजबूती दिखाते हैं। इनोवेशन और टेक्नोलॉजी जैसे क्षेत्रों में जापान की विशेषज्ञता की भारत कद्र करता है। मोदी ने कहा कि वह जापान के प्रधानमंत्री एबी के साथ कई मुद्दों पर बात करेंगे। इस दौरान दोनों के देशों के उद्योग जगत के दिग्गजों से भी मुलाकात होगी।

Posted By: Nancy Bajpai

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस