नई दिल्ली, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को जापान में अपने दो दिवसीय दौरे के हिस्से के रूप में क्वाड लीडर्स समिट में भाग लेने के बाद दिल्ली स्थित पालम वायुसेना स्टेशन पहुंचे। पीएम मोदी ने क्वाड सम्मेलन में शत्रुता की समाप्ति, वार्ता और कूटनीति को फिर से शुरू करने की आवश्यकता पर भारत की सुसंगत और सैद्धांतिक स्थिति पर प्रकाश डाला।

यूक्रेन में रूसी सैन्य कार्रवाई की क्वाड राष्ट्रों ने की आलोचना

पीएम मोदी ने क्वाड राष्ट्रों ऑस्ट्रेलिया, जापान और संयुक्त राज्य अमेरिका के नेताओं के साथ बातचीत में भाग लिया, जिसमें यूक्रेन में रूसी सैन्य कार्रवाई की आलोचना हुई। शिखर सम्मेलन के दौरान, नेताओं ने एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी इंडो-पैसिफिक के लिए अपनी साझा प्रतिबद्धता और संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता और विवादों के शांतिपूर्ण समाधान के सिद्धांतों को बनाए रखने के महत्व को दोहराया।

अमेरिका, जापान और आस्ट्रेलिया के नेताओं से मिले पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने इंडो-पैसिफिक में विकास और यूरोप में संघर्ष पर दृष्टिकोणों का आदान-प्रदान किया। क्वाड समिट से इतर प्रधानमंत्री ने मंगलवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और आस्ट्रेलिया के नए प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज के साथ द्विपक्षीय बैठक की। उन्होंने जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के साथ द्विपक्षीय बैठक भी की।

रूस-यूक्रेन जंग सहित कई मुद्दों पर हुई चर्चा

टोक्यो में व्यक्तिगत क्वाड समिट की बैठक में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन, आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज ने हिस्सा लिया। इस दौरान रूस-यूक्रेन जंग समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई।

प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यक्रमों में लिया हिस्सा

सोमवार को अपनी जापान यात्रा के पहले दिन, प्रधानमंत्री ने कई कार्यक्रमों में भाग लिया। उन्होंने समृद्धि के लिए इंडो-पैसिफिक इकोनॉमिक फ्रेमवर्क लॉन्च करने के कार्यक्रम में भाग लिया और टोक्यो में एक बिजनेस राउंडटेबल की अध्यक्षता की। उन्होंने भारतीय समुदाय के सदस्यों के साथ भी बातचीत की।

Edited By: Achyut Kumar