नई दिल्‍ली, जेएनएन। देश में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई जोरों पर है। लॉकडाउन के चलते काम-धंधा बंद है। दिहाड़ी मजदूरों पर तगड़ी मार पड़ी है। कई मजदूर परिवारों के भोजन का संकट खड़ा हो गया है। हालांकि सरकारी स्‍तर पर लोगों को मदद पहुंचाने का काम भी जारी है। कोई भूखा नहीं सोए, सभी को भोजन मिल जाए इसके लिए लोग भी सामने आ रहे हैं। देशप्रेम की भावना से ओतप्रोत समाजसेवी लोग यथा शक्ति भूखे मजदूरों को भोजन कराने का काम कर रहे हैं। इनकी जनसेवा का प्रधानमंत्री मोदी भी मुरीद हो गए है। उन्‍होंने सिलसिलेवार ट्वीट में अपनी भावना प्रकट की है....  

पीएम मोदी बोले- गुड एफर्ट

इन्‍हीं समाजसेवियों में एक हैं पवन कुमार.... उन्‍होंने प्रधानमंत्री मोदी को टैग करते हुए ट्वीट किया है कि सर मैं जमशेदपुर में एक बैंकर हूं। अपनी कॉलोनी के पड़ोसियों की मदद से हम बीते पांच दिनों से 150 फूड पैकेटों को जरूरतमंद लोगों के बीच बांट रहे हैं। पवन कुमार ने जनसेवा की तस्‍वीरें भी साझा की हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने इसका जवाब देते हुए लिखा है... 'गुड एफर्ट' 

यह कार्य देश सेवा का अनुपम उदाहरण है 

महाराष्‍ट्र की शशि पाठक ने ट्वीट किया है कि मेरे घर से रोजाना 50 TDRF की टीम को सुबह का नाश्ता, ड्यूटी पर तैनात पुलिस के सभी जवानों को चाय, आदि जरूरत की चीजें उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने लिखा है कि भगवान हमें इतनी शक्ति दे कि यह सेवा हम करते रहें। प्रधानमंत्री जी आप के हाथों में देश सुरक्षित है, हम सभी आपके आदेश का पालन करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने इसके जवाब में लिखा है कि कोरोना महामारी के समय यह देश सेवा का एक अनुपम उदाहरण है।

देशवासियों के ऐसे सुविचार सबसे बड़ा संबल 

किसान शिव सहाणे लिखते हैं कि मोदीजी, मेरे खेत में टमाटर, गोभी के अलावा कई दूसरी सब्जियां उगाई जाती हैं। मैंने लॉकडाउन के दौरान इन सब्जियों को बिना मूल्‍य के लेके जाने की बात कही है ताकि लॉकडाउन में लोगों को सब्जियों की दिक्‍कत ना हो। उन्‍होंने आगे लिखा है कि मोदीजी आप भी अपनी सेहत का ख्याल रखिए हम सभी देशवासी आपके साथ हैं। पीएम मोदी ने जवाब में लिखा है कि देशवासियों के ऐसे सुविचार और शुभकामनाएं ही तो सबसे बड़ा संबल हैं।

यही तो मानवता की सच्ची सेवा है... 

गुजरात के जूनागढ़ में 160 परिवारों ने प्रतिदिन 800 लोगों को भोजन कराने का जिम्‍मा ले रखा है। समाजसेवी निशि‍त मकवाना कहते हैं कि प्रधानमंत्री जी आपको बताते हुई खुशी हो रही है कि चोरवाड में हररोज 160 परिवार लगभग 800 लोगों को सब्‍जी चावल और पुरी देते हैं। हम सभी यह काम पिछले 13 दिनों से हर रोज करते हैं। इस ट्वीट के जवाब में प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा है कि यही तो मानवता की सच्ची सेवा है। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस