नई दिल्ली, ब्यूरो। ईवीएम पर विपक्ष के हमलों का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क़़डा जवाब दिया है। राजग नेताओं के साथ बैठक में प्रधानमंत्री ने ईवीएम विवाद पर चिंता जताई और कहा कि विपक्ष बेवजह विवाद ख़़डा कर रहा है। राजग ने सत्ता में वापसी पर अगले पांच वर्षो के लिए अपना एजेंडा भी तय किया है। भाजपा की अगुआई वाले सत्ताधारी गठबंधन की बैठक में 36 पार्टियों ने भाग लिया। इस दौरान एक प्रस्ताव पारित किया गया।

भाजपा नेता और केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रस्ताव में 2019 के आम चुनाव को देश के लिए सकारात्मक करार दिया गया और 2022 तक भारत को मजबूत, विकसित, समृद्ध और समावेशी बनाने का संकल्प लिया गया। उस समय भारत अपना 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा। यह प्रस्ताव भाजपा की सहयोगी लोजपा नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने पेश किया था। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने जाति आधारित चर्चाओं में बदलाव लाने और इसके केंद्र में गरीबों को लाने की जरूरत पर बल दिया।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की ओर से आयोजित भोज एवं बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी एवं अन्य नेता मौजूद थे। भोज से पहले बैठक में सहयोगी दलों के नेताओं ने शॉल से प्रधानमंत्री को सम्मानित किया। मंच पर शिअद नेता प्रकाश सिंह बादल और अन्य वरिष्ठ नेता प्रधानमंत्री के साथ बैठे।

मंत्रालयों के शीर्ष नौकरशाहों से की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात प्रमुख मंत्रालयों के शीर्ष नौकरशाहों के साथ बैठक की। बैठक के एजेंडे के बारे में अधिकृत रूप से कुछ भी नहीं कहा गया है। सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री ने आर्थिक हालत सहित विभिन्न मुद्दों पर फीडबैक लिया। मार्च में चुनाव घोषित होने के बाद प्रधानमंत्री ने पहली बार नौकरशाहों के साथ बैठक की है।

पहली बार सकारात्मक मुद्दों पर हुआ चुनाव

पीएम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को मंत्रिमंडलीय सदस्यों के साथ बैठक की। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में पहली बार सकारात्मक मुद्दों पर चुनाव हुआ है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पद, प्रतिष्ठा और पावर सब जनता से ही आता है। एग्जिट पोल में राजग की पूर्ण बहुमत के साथ वापसी की भविष्यवाणी को देखते हुए अमित शाह ने चुनाव में भारी जनसमर्थन का श्रेय प्रधानमंत्री को दिया।

मंत्रियों ने मोदी का स्वागत किया पार्टी मुख्यालय में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, स़़डक परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, खाद्य मंत्री रामविलास पासवान और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया।

प्रधानमंत्री ने बताया कि पिछले पांच वर्षो में सरकार ने जनता की मौलिक जरूरतों को पूरा करने की कोशिश की है। जरूरतमंदों को ध्यान में रखकर योजनाएं बनाई गई और लाभार्थियों तक उन्हें पहुंचाना सुनिश्चित किया गया। उन्होंने इसमें मंत्रिमंडलीय सहयोगियों के योगदान की भी सराहना की।

मोदी ने कहा कि जब आप जनता के लिए काम करते हैं, तो जनता बदले में आप पर भरोसा जताती है। जनता की भलाई के लिए पिछले पांच वर्षो के काम का नतीजा ही है कि देश में पहली बार सकारात्मक मुद्दों पर चुनाव हो रहा है।

शाह ने मोदी को दिया श्रेय

अमित शाह ने बताया कि किस तरह मोदी सरकार की पांच साल की उपलब्धियों ने पार्टी के लिए जनता से जु़डना आसान बना दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा इन उपलब्धियों के साथ जनता तक पहुंचने में सफल रही। पांच साल में देश की 50 करो़ड जनता को सीधे प्रभावित करने वाली योजनाएं बनाने और उन्हें अमली जामा पहनाने का श्रेय उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को दिया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Bhupendra Singh