नई दिल्‍ली, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने नोबेल विजेता (Nobel Laureate) अभिजीत बनर्जी (Abhijit Banerjee) से मंगलवार को मुलाकात की। अपने ट्विटर हैंडल के जरिए उन्‍होंने इस बात की जानकारी दी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह मुलाकात काफी अच्‍छी रही। 

मुलाकात के बाद पीएम ने दी भविष्‍य के लिए शुभकामनाएं

मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'मानव सशक्तिकरण के प्रति अभिजीत बनर्जी का नजरिया स्‍पष्‍ट है। हमारे बीच विभिन्‍न विषयों पर बात हुई। देश को उनकी उपलब्धियों पर गर्व है। उनके भविष्‍य के लिए शुभकामनाएं।'

 अभिजीत की मां बेटे को देना चाहती थीं ये संदेश

उल्‍लेखनीय है कि अभिजीत बनर्जी की मां निर्मला देवी प्रधानमंत्री मोदी के साथ मुलाकात को लेकर बेटे को सतर्क करना चाहती थीं। अभिजीत ने मोदी सरकार की अर्थनीति की आलोचना की थी और कहा था कि घट रहे डिमांड से चिंताजनक हालात है, डेटा भी संदिग्‍ध है। दरअसल निर्मला देवी चाहती थीं कि अभिजीत प्रधानमंत्री से सोच-समझकर बात करें।  

मुलाकात के बाद अभिजीत ने कहा पीएम को शुक्रिया

प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद नोबेल विजेता ने शुक्रिया अदा किया और कहा, 'यह मुलाकात मेरे लिए काफी अच्‍छी रही। प्रधानमंत्री ने मुझे काफी वक्‍त दिया। इस दौरान हमने देश की अर्थव्‍यवस्‍था व हालात पर बात की। उन्‍होंने भारत को लेकर अपनी सोच पर मुझसे चर्चा की। हमारे बीच और भी कई मुद्दों पर चर्चा हुई।'

पत्‍नी एस्‍थर डुफ्लो को भी मिला है ये सम्‍मान

वर्ष 2019 में अर्थशास्‍त्र के क्षेत्र में भारतीय अमेरिकी अभिजीत बनर्जी को नोबेल पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया। यह सम्‍मान उन्‍हें संयुक्‍त रूप से फ्रांस की एस्थर डुफ्लो और अमेरिका के माइकल क्रेमर के साथ दिया गया। 

मैसाचुसेट्स इंस्‍टीट्यूट में हैं इकोनॉमिक्‍स के प्रोफेसर

भारतीय मूल के अभिजीत की पढ़ाई भारत के कलकत्ता यूनिवर्सिटी और जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई। इसके बाद वर्ष 1988 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से उन्‍होंने पीएचडी की उपाधि हासिल की। वर्तमान में वे मैसाचुसेट्स इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी में इकोनॉमिक्‍स के प्रोफेसर हैं।

यह भी पढ़ें: Nobel Prize 2019: नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी को लेकर अब 'डैमेज कंट्रोल' में जुटी बंगाल भाजपा

यह भी पढ़ें: विरोधियों पर भड़कीं नोबेल विजेता अर्थशास्‍त्री अभिजीत बनर्जी की मां, कहा- विचारों का सम्मान करें 

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप