नई दिल्ली, एएनआइ। बैंकॉक से लौटते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक्शन मोड़ में दिखाई दिए। इस तीन दिवसीय दौरे से वापस आते ही पीएम मोदी ने दिल्ली में प्रदूषण (Delhi pollution) और गुजरात में आए महा तूफान (MAHA Cyclone) को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार इस बैठक में प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पी के मिश्रा और प्रधानमंत्री के प्रधान सलाहकार पीके सिन्हा उपस्थित रहे।

बता दें कि दिवाली के बाद से ही दिल्ली एनसीआर में वायु प्रदूषण चरम पर है। इससे यहां के लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, पिछले 24 घंटों में हालात में थोड़ी सुधार हुई है। दिल्ली और इसके आस-पास के क्षेत्रों जैसे गुरुग्राम, नोएडा, फरीदाबाद और गाजियाबाद में रहने वाले लोगों को प्रदूषण कुछ हदतक राहत मिली है।

वायु गुणवत्ता में सुधार

मंगलवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) में सुधार देखने को मिला है। केंद्र द्वारा संचालित सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR) के अनुसार AQI ने इसकी जानकारी दी है। इस भयवाह स्थिति से निपटने के लिए दिल्ली में अरविंद केजरीवाल ने सरकार ने 4 नवंबर से 15 नवंबर, 2019 तक ऑड-ईवन योजना लागू  की है। दिल्ली में यह योजना तीसरी बार लागू हुई है।

गुजरात में तूफान का दस्तक

अरब सागर पर चक्रवाती तूफान महा अब गुजरात में दस्तक देने वाला है। यह तूफान उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मंगलवार को कहा कि 6 और 7 नवंबर को गुजरात, महाराष्ट्र, दमन और दीव और दादरा और नागर हवेली के कुछ स्थानों पर इसके चलते भारी बारिश संभवाना जताई है। इसके अलावा सौराष्ट्र और गुजरात में भी कुछ स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। 

तूफान से निपटने को नौसेना तैयार 

तूफान से निपटने के लिए नौसेना ने कमर कस ली है। समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार पश्चिमी नौसेना के जहाज और गुजरात नेवल एरिया की नौसेना इकाइयां राहत और बचाव कार्य के लिए तैयार हैं। 

यह भी पढ़ें: थाइलैंड की प्रमुख बैंठकों में हिस्‍सा लेकर प्रधानमंत्री मोदी आज स्‍वदेश लौटे

यह भी पढ़ें: MAHA Cyclone LIVE Update: तूफान महा की आहट, नौसेना ने संभाला मोर्चा, इन इलाकों में अलर्ट

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप