नई दिल्ली, एएनआइ। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को 74 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के शुभारंभ की घोषणा की। पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को अपने संबोधन के दौरान कहा कि मिशन देश में स्वास्थ्य क्षेत्र में एक "'क्रांति' लाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज से देश में एक नया अभियान शुरू होने जा रहा है। यह राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन है। राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन भारत में स्वास्थ्य क्षेत्र में एक नई क्रांति लाएगा।

पीएम मोदी ने यहां एक हेल्थ आईडी का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि वन हेल्थ आईडी में हर टेस्ट, हर बीमारी की जानकारी होगी कि कौन सी दवा आपको किस डॉक्टर ने दी थी, क्या रिपोर्ट थी। इससे पहले, प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में साथ निभा रहे लोगों का स्वागत करते हुए कहा, 'कोरोना योद्धाओं ने 'सेवा परमो धर्म' के मंत्र से देश के लोगों की सेवा की है।

74 वें स्वतंत्रता दिवस पर देश को संबोधित करते हुए, प्रधान मंत्री ने कहा कि यह स्वतंत्रता सेनानियों को याद करने का एक अवसर है जिन्होंने देश की स्वतंत्रता के लिए अपना जीवन लगा दिया। बता दें कि कोरोना के कारण इस बार लाल किले पर लोगों की संख्या तो कम रही लेकिन जोश और उत्साह भरपूर है। इस बार काफी कम मेहमान ही स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम में शामिल हुए है। पीएम मोदी ने लाल किले से स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कोरोना वॉरियर्स को नमन किया। उन्होंने कहा कि कोरोना काम के समय में अपने जीवन की परवाह किए बिना हमारे डॉक्टर्स, नर्से, पैरामेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी और अनेक लोग 24 घंटे लगातार काम कर रहे हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021