नई दिल्ली, प्रेट्र। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंत्रिमंडल की बैठक में अपने साथियों को कामकाज संबंधी कई दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने सभी मंत्रियों से कहा कि वह दफ्तर समय से पहुंचें और दूसरों के सामने अच्छा उदाहरण पेश करने के लिए घर से काम करने से बचें।

मोदी सरकार के दोबारा सत्ता में आने के बाद बुधवार को मंत्रिमंडल की पहली बैठक के बाद सूत्रों ने बताया कि मोदी ने वरिष्ठ मंत्रियों से कहा कि वह नए मंत्रियों और उनके सहयोगी मंत्रियों का मार्गदर्शन करते रहें। राज्य मंत्रियों को और अधिक भूमिका देने के संबंध में मोदी ने कहा कि अहम फाइलों को कैबिनेट मंत्रियों को अपने सहयोगी राज्यमंत्रियों से साझा करना चाहिए। इससे उत्पादन क्षमता बढ़ेगी।

मोदी ने समय की पाबंदी का सबक पढ़ाते हुए कहा कि फाइलों के तेजी से निपटारे के लिए कैबिनेट मंत्रियों को अपने जूनियर मंत्रियों के साथ बैठकर प्रस्तावों पर काम करना चाहिए। साथ ही मंत्रालय के नए घटनाक्रमों को अपडेट करने के लिए नियमित रूप से अधिकारियों के साथ भी बैठक करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि काम नियमित रूप से किया जाना जरूरी है। सभी मंत्रियों को समय से दफ्तर पहुंचना चाहिए। मंत्रियों को नियमित रूप से दफ्तर आना चाहिए और घर से काम करने से बचना चाहिए। अगले हफ्ते शुरू हो रहे संसद सत्र राज्य मंत्रियों को मंत्रालय में अहम भूमिका सौंपते हुए उन्हें सदन के पटल पर भी सवाल पूछने का मौका दिया जा रहा है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjeev Tiwari