मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, प्रेट्र। केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता पीयूष गोयल ने रविवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी की गरीबों को न्यूनतम आय का वादा अपने आप में आपदा है। इससे एक और घोटाला हो सकता है। गोयल ने कहा कि उन्हें लगता है कि इस योजना को लागू करना संभव नहीं होगा क्योंकि आय और वेतन के स्तर का कोई आंकड़ा नहीं है और कांग्रेस का वादा 'गुब्बारे की तरह फूटेगा'।

कांग्रेस ने सत्ता में आने पर देश के 20 प्रतिशत सबसे गरीब लोगों के बैंक खातों में 72,000 रुपये सालाना जमा करने का वादा किया है। जबकि कांग्रेस के नेता और उसके अध्यक्ष राहुल गांधी प्रस्तावित योजना के बारे में कहते रहे हैं, जिसे पार्टी ने 'न्याय' नाम दिया है, मतदाताओं के बीच एक बड़ा आकर्षण है, भाजपा ने इसे पूरी तरह से अव्यावहारिक और आर्थिक समझदारी के खिलाफ करार दिया है।

पीयूष गोयल ने पीटीआइ को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि आर्थिक और वित्तीय लिहाज से ये किसी आपदा से कम नहीं है। पीयूष गोयल ने कहा कि ये संभव ही नहीं है क्योंकि लोगों की आय को लेकर कोई डाटा है ही नहीं।  और, लोगों (लाभार्थियों) का चयन भ्रष्टाचार से भरा होगा और यह खुद ही एक घोटाला बन सकता है। ये घोटाला कांग्रेस द्वारा किए गए घोटालों में जुड़ जाएगा। 

पीयूष गोयल ने पीटीआइ को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि आर्थिक और वित्तीय लिहाज से ये किसी आपदा से कम नहीं है। पीयूष गोयल ने कहा कि ये संभव ही नहीं है क्योंकि लोगों की आय को लेकर कोई डाटा है ही नहीं।  लोगों (लाभार्थियों) का चयन भ्रष्टाचार से भरा होगा और यह खुद ही एक घोटाला बन सकता है। ये घोटाला कांग्रेस द्वारा किए गए घोटालों में जुड़ जाएगा।  

दूसरी ओर, भाजपा नेता ने कहा कि मोदी सरकार, देश के विकास के लिए काम कर रही है और 130 करोड़ भारतीयों के आत्मनिर्भर स्वाभिमान और सम्मान के जीवन जीने के लिए 130 करोड़ भारतीयों के बेहतर भविष्य के लिए प्रतिबद्ध है। 

बेरोजगारी के मुद्दे पर गोयल ने कहा कि भारत अब दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है और दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है और यह रोजगार पैदा किए बिना नहीं हो सकता। गोयल ने कहा कि रोजगार पैदा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अगले पांच वर्षों में इन्फ्रास्ट्रकचर में 100 लाख करोड़ रुपये का निवेश करने का वादा किया है जिससे आगे रोजगार पैदा होगा।  

मोदी सरकार और उसकी उपलब्धियों के बारे में बात करते हुए, गोयल ने कहा कि सरकार ने देश की मानसिकता को कमजोरी से एक ताकत में बदल दिया है और भारत के काम करने के तरीके में एक बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि देश और यहां के लोग आकांक्षी बन गए हैं और अब 'चलता है' के रवैये को स्वीकार नहीं करते हैं। 

 

Posted By: Atyagi.jimmc

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप