नई दिल्ली, एजेंसी। आज गृह मामलों की संसदीय स्थायी समिति की बैठक हुई। समिति ने जम्मू और कश्मीर और लद्दाख में वर्तमान परिस्थितियों पर चर्चा की, राजनीतिक नेताओं की रिहाई। जम्मू-कश्मीर के अतिरिक्त सचिव ने समिति के समक्ष एक विस्तृत प्रस्तुति दी।

संसदीय समिति अनुच्छेद 370 के तहत विशेष दर्जा समाप्त होने के बाद 5 अगस्त से जम्मू और कश्मीर में गिरफ्तार और हिरासत में लिए गए लोगों की संख्या का विवरण मांगी है। गृह सचिव अजय कुमार भल्ला जम्मू और कश्मीर और लद्दाख के बारे में संसदीय समिति को जानकारी देंगे।

केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की स्थिति पर चर्चा के लिए संसद भवन में आज सुबह करीब 11.30 बजे कांग्रेस नेता आनंद शर्मा की अध्यक्षता में गृह मामलों की संसदीय स्थायी समिति के समक्ष पेश होंगे। संसदीय समति इस दौरान जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद 5 अगस्त से कश्मीर में गिरफ्तार किए गए और हिरासत में लिए गए लोगों की सख्या का ब्यौरा मांगेगी।

इस संसदीय समिति के अध्यक्ष कांग्रेस नेता आनंद शर्मा हैं, जो हिमाचल प्रदेश से राज्यसभा सदस्य हैं। इस समिति में राज्यसभा से 9 और लोकसभा से 21 सदस्य शामिल हैं। इनमें से 5 पश्चिम बंगाल से हैं और समिति में दो सदस्य और भी हैं- राज्यसभा से शमशेर सिंह मन्हास और लोकसभा से जमैया त्सेरिंग नामग्याल - जो जम्मू-कश्मीर और लद्दाख से हैं।

बता दें, 5 अगस्त को सरकार ने जम्मू और कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को समाप्त कर दिया और इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया। पिछली 31 अक्टूबर को जम्मू कश्मीर  और लद्दाख दो नए केंद्र शासित प्रदेश के रूप में अस्तित्व में आ गए हैं।

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप