नई दिल्ली, प्रेट्र। Parliament Session:केंद्र ने शुक्रवार को राज्यसभा में बताया कि देश के 2.69 लाख किसानों के खाते में अभी तक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पहली किस्त नहीं पहुंची है। इन किसानों के बैंक खातों में विसंगतियों के चलते ऐसा हुआ है, जिसे राज्य सरकारों से जल्द दूर करने के लिए कहा गया है।

संसद के उच्च सदन में शून्य काल के दौरान कृषि राज्यमंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने बताया कि कई राज्यों ने इस योजना को अपने यहां लागू किया है। उन्होंने पश्चिम बंगाल और दिल्ली सरकारों से भी अपने यहां इस योजना को लागू करने का अनुरोध किया, ताकि किसानों को इसका लाभ मिल सके।

मंत्री ने बताया कि मणिपुर, नगालैंड और झारखंड में भूमि संबंधित रिकॉर्ड नहीं होने के मसले को सुलझा लिया गया है। झारखंड में भूमि संबंधी रिकॉर्ड को 1932 से ही अपडेट नहीं किया गया है, जिसे जल्द से जल्द अपडेट करने को कहा गया है।

केंद्र सरकार ने लोकसभा चुनाव से पहले फरवरी में इस योजना की घोषणा की थी। इसके तहत दो हेक्टेयर जमीन के जोत वाले 14.5 करोड़ किसानों को हर साल दो-दो हजार रुपये की तीन किस्तों में छह हजार रुपये दिए जाने हैं। अब तक 4.14 करोड़ किसानों के खाते में पहली किस्त और 3.17 करोड़ किसानों के खाते में दूसरी किस्त पहुंच चुकी है।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk