मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, प्रेट्र । जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से बौखलाया पाकिस्तान बड़ी साजिश रच रहा है। खुफिया एजेंसियों का कहना है कि पाकिस्तान कश्मीर में अस्थिरता फैलाने के लिए अफगानिस्तान से 100 से ज्यादा आतंकियों को ला रहा है। इनके अलावा जैश-ए-मुहम्मद के करीब 15 आतंकी नियंत्रण रेखा के नजदीक पाकिस्तान की लिपा घाटी में रुककर घुसपैठ की तैयारी कर रहे हैं।

आतंकियों को कश्मीर में दाखिल कराना चाहता है पाक

खुफिया एजेंसियों से जुड़े सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान कश्मीर में कई आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की फिराक में है। इनके जरिये वह दुनिया को यह दिखाना चाहता है कि अनुच्छेद 370 हटने से घाटी में अशांति है। सूत्रों ने बताया, 'हमारे पास पुष्ट खुफिया जानकारी है कि पाकिस्तान अफगानिस्तान से 100 से ज्यादा आतंकियों को ला रहा है। इन्हें अगले कुछ हफ्तों में कश्मीर में दाखिल कराने की कोशिश होगी।

मसूद अजहर का भाई बना रहा है प्लान

जैश के सरगना मौलाना मसूद अजहर के भाई मुफ्ती रऊफ असगर ने भी कश्मीर में आतंकियों की घुसपैठ के एजेंडे पर बहावलपुर स्थित ठिकाने पर अपने टॉप कमांडरों से चर्चा की है।' खुफिया रिपोर्टो में कहा गया है कि पाकिस्तान के आतंकी संगठन अगले कुछ हफ्तों में भारत के कई शहरों में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की कोशिश कर सकते हैं।

कश्मीर कुछ बड़े अातंकियों को उतारने की कोशिश

पाकिस्तान का मानना है कि कश्मीर में स्थानीय आतंकी पूरी तरह प्रशिक्षित नहीं हैं। उनकी क्षमता कम है और क्षेत्र में सुरक्षाबलों द्वारा चलाए जा रहे आतंकरोधी अभियानों के चलते आतंकियों के पास नेतृत्व का भी अभाव है। इसी सोच के साथ वह अफगानिस्तान से कुछ बड़े आतंकियों को यहां उतारने की कोशिश में है।

भारत के खिलाफ इमरान खान दे चुके हैं भड़काऊ बयान

पाकिस्तान ने अपने सभी विदेशी दूतावासों में एक कश्मीर डेस्क भी गठित किया है, जिससे जम्मू-कश्मीर पर भारत के फैसले के खिलाफ राग अलाप सके। अनुच्छेद 370 पर भारत के फैसले से बौखलाए पाकिस्तान के पीएम इमरान खान भी कई भड़काऊ बयान दे चुके हैं। इस दौरान इमरान यह डर भी जता चुके हैं कि भारत पाकिस्तान के खिलाफ बालाकोट से भी बड़ी कार्रवाई को अंजाम दे सकता है।

यह भी पढ़ेंः मध्यप्रदेश में पकड़े गए पाकिस्तान खुफिया एजेंसी के पांच एजेंट, जानिए- क्या करते थे काम

Posted By: Sanjeev Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप