मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, प्रेट्र। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने सोमवार को अनुरोध किया कि जब वह वित्त मंत्री थे तो आइएनएक्स मीडिया को मंजूरी देने में शामिल रहे अधिकारियों को गिरफ्तार न किया जाए, क्योंकि उनमें से किसी ने भी कुछ गलत नहीं किया है।

आइएनएक्स मीडिया को वित्त मंत्री के तौर पर FIPB मंजूरी देने में कथित भ्रष्टाचार के मामले में चिदंबरम को पिछले हफ्ते गुरुवार को न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेज दिया गया था। लिहाजा उन्होंने अपने परिवार से उनकी ओर से एक संदेश ट्वीट करने के लिए कहा था।

इस ट्वीट में उन्होंने कहा, 'लोगों ने मुझसे पूछा है कि जब मामले की प्रक्रिया को पूरी करने वाले और आपसे सिफारिश करने वाले दर्जनभर अधिकारियों को गिरफ्तार नहीं किया गया, तो आपको क्यों गिरफ्तार किया गया है? सिर्फ इसलिए क्योंकि आपने आखिर में हस्ताक्षर किए? मेरे पास कोई उत्तर नहीं था।'

एक अन्य ट्वीट में उनकी ओर से लिखा गया, 'किसी भी अधिकारी ने कुछ गलत नहीं किया है। मैं नहीं चाहता कि किसी को भी गिरफ्तार किया जाए।'

गौरतलब है कि आइएनएक्स मीडिया केस में गिरफ्तार कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम को 19 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने पिछले दिनों आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। कोर्ट के आदेश के बाद चिदंबरम को तिहाड़ सेन्ट्रल जेल में रखा गया है।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस में शर्मिष्ठा मुखर्जी और अंशुल कुमार को मिली बड़ी जिम्मेदारी, बनाए गए राष्ट्रीय प्रवक्ता

इसे भी पढ़ें: घोटालों की जांच पर राजनीति ठीक नहीं, भ्रष्‍टाचार से मुक्‍त‍ि के लिए उठाने ही होंगे जरूरी कदम

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप