मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्‍ली, एएनआइ। Parliament Session LIVE Updates: कश्‍मीर मामले पर मध्‍यस्‍थता को लेकर अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप द्वारा दिए गए बयान पर संसद में मंगलवार को पूरे दिन विपक्षी पार्टियों ने हंगामा किया। दोनों सदनों में विपक्ष अपनी जिद पर अड़े रहे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद में आकर जवाब दें। हालांकि विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इसपर दोनों सदनों में जवाब दिया। उन्‍होंने कहा कि कश्‍मीर पर मध्‍यस्‍थता को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसी तरह की अपील नहीं की।

बार-बार बाधित हुई कार्यवाही

संसद में प्रधानमंत्री के जवाब को लेकर विपक्ष अपनी जगह कायम है। विदेश मंत्री ने कहा, ‘भारत-पाकिस्‍तान के बीच तमाम मुद्दों को केवल द्विपक्षीय तरीके से सुलझाया जा सकता है इसमें किसी तीसरे का हस्‍तक्षेप स्‍वीकार नहीं है।’ मामले पर राज्‍यसभा में विपक्ष का प्रदर्शन जारी रहा। इसी मामले पर दोनों सदनों की कार्यवाही बार-बार बाधित हुई। 

प्रधानमंत्री जवाब दो, प्रधानमंत्री जवाब दो...

राज्‍यसभा में विपक्ष ने प्रधानमंत्री जवाब दो, प्रधानमंत्री जवाब दो के नारे लगाए। इस हंगामे को देखते हुए सदन की कार्यवाही तीन बजे तक स्‍थगित कर दी गई। संसद में राज्‍यसभा के विपक्षी नेता गुलाम नबी आजाद के साथ तमाम विपक्षी नेताओं की बैठक चल रही है। विपक्ष की मांग जारी है कि प्रधानमंत्री मोदी संसद में आकर जवाब दें।  राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अगर सरकार संसद को भी विभागों की तरह चलाना चाहती है तो हम ऐसे नहीं चलने देंगे। हम रबड़ स्‍टांप नहीं हैं। यह संसद सरकार के इशारों पर नहीं चलेगी बल्कि देश के सिद्धांतों और कानून के आधार पर चलेगी। आजाद ने कहा कि प्रधानमंत्री जवाब नहीं देते और न किसी मंत्री की हिम्मत है जो उनसे बयान देने के लिए कहे। पीएम मोदी ने 6 साल में एक बार भी यह नहीं किया और आज भी संसद में नहीं आ रहे हैं। विरोध में कांग्रेस सांसदों ने राज्यसभा से वॉक आउट कर दिया।

राज्यसभा में कांग्रेस सांसद पी चिदंबरम ने कहा कि विपक्षी दलों की शिकायत है तो उसे सुनना चाहिए, आप किसी को भी हंगामे के बीच अपनी बात करने के लिए नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि सदन की कार्यवाही स्थगित कर मुद्दे का समाधान निकालना चाहिए। सांसद वेल में हैं और ऐसे में सदन नहीं चलाया जा सकता। मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि विपक्ष सदन को बाधित कर उसका अधिकार छीन रहे हैं। थावर चंद गहलोत ने कहा कि सरकार की ओर से विदेश मंत्री जवाब दे चुके हैं और अब इस विषय को उठाने का कोई मतलब नहीं है।

लोकसभा में मोटर व्‍हीकल विधेयक पर चर्चा

लोकसभा में सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी द्वारा पेश किए गए मोटर व्हीकल विधेयक पर आज चर्चा की गई। डीएमके सांसद कनिमोझी ने इसपर अपना पक्ष रखा। वहीं टीएमसी सांसद सौगत राय ने मोटर व्हीकल विधेयक का समर्थन किया। उन्‍होंने कहा कि सड़क सुरक्षा को लेकर एक अलग नीति की आवश्‍यकता है। राय ने कहा कि शहरों और हाईवे के लिए नीति बनाई जानी चाहिए ताकि ट्रैफिक से निजात मिल सके। उन्होंने कहा कि ज्यादातर लोगों को सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित करने की जरूरत है।

संसद में प्रधानमंत्री के बयान की मांग पर कांग्रेस अड़ गई है। राज्‍यसभा के बाद लोकसभा में विदेश मंत्री एस जयशंकर के बयान के दौरान विपक्ष ने हंगामा किया। इसपर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ऐसे सदन नहीं चलेगा और सदन से शांति की अपील की। विदेश मंत्री ने राज्यसभा में दिया अपना बयान दोहराया और कहा कि पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति से ऐसी कोई अपील नहीं की। लोकसभा में भी विदेश मंत्री एस जयशंकर के बयान के बाद हंगामा शुरू हो गया और विपक्ष ने सदन से वॉकआउट किया। विदेश मंत्री ने कहा कि ट्रंप के साथ प्रधानमंत्री की ऐसी कोई बात ही नहीं हुई है उन्‍होंने कभी मध्‍यस्‍थता के लिए आग्रह ही नहीं किया। आतंकवाद खत्‍म होने के बाद ही पाकिस्‍तान से बातचीत मुमकिन है।

प्रधानमंत्री के बयान को लेकर कांग्रेस अड़ी

यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने कहा है कि हम प्रधानमंत्री के बयान की मांग करते रहेंगे। कांग्रेस के आनंद शर्मा ने भी इस मुद्दों को उठाते हुए सरकार से जवाब की मांग की। बता दें कि ट्रंप के कश्‍मीर मामले में मध्‍यस्‍थता वाले बयान पर कांग्रेस ने आपत्‍ति जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसद में आकर जवाब देने को कहा। इस मामले पर राज्‍यसभा में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने प्रधानमंत्री का पक्ष रखा। उन्‍होंने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐसी कोई अपील नहीं की।' विदेश मंत्री के बयान के बाद विपक्ष के हंगामे के कारण राज्‍यसभा 12 बजे तक स्‍थगित कर दी गई।

'भारत-पाक का द्विपक्षीय मसला है कश्‍मीर'

विदेश मंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने कभी कश्‍मीर मामले पर मध्‍यस्‍थता के लिए ट्रंप से नहीं कहा। कश्‍मीर मुद्दे का हल द्विपक्षीय वार्ता से होगा। कश्‍मीर भारत-पाक का द्विपक्षीय मसला है। उन्‍होंने कहा आतंकवाद खत्‍म होने पर ही पाक से बात होगी। लोकसभा में भी कांग्रेस ने ट्रंप के मध्‍यस्‍थता वाले बयान को उठाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब देने को कहा है।

कांग्रेस के हंगामे पर बोले लोक सभा अध्‍यक्ष-

लोक सभा में ट्रंप के बयान पर कांग्रेस के हंगामे को देखते हुए लोक सभा अध्यक्ष ने कहा, ‘पहले फैसला कर लें सारगर्भित डिबेट करेंगे या हल्ला करना है। हम देशहित में सदन चला रहे हैं। माननीय सदस्य प्रश्नकाल चलने दें। 12 बजे आप मुद्दा उठा सकते हैं।’ जारी संसद सत्र के दौरान विपक्षी पार्टियों की ओर से विभिन्‍न मुद्दों पर हर दिन दोनों सदनों में स्‍थगन प्रस्‍ताव के नोटिस पेश किए जा रहे हैं। कांग्रेस ने लोकसभा में स्‍थगन प्रस्‍ताव व राज्‍यसभा में शून्‍यकाल का नोटिस दिया है।

बोले राज्‍यसभा अध्‍यक्ष-

राज्‍यसभा अध्‍यक्ष वेंकैया नायडू ने कश्‍मीर मामले में ट्रंप की मध्‍यस्‍थता के लिए पीएम की अपील मामले पर राज्‍यसभा में कहा, ‘यह राष्‍ट्रीय मुद्दा है। इसमें देश का हित, इसकी एकता और अखंडता शामिल है, हमें एक आवाज में इसपर बोलना चाहिए।

लोकसभा में सपा सांसद अखिलेश यादव

लोकसभा में सपा सांसद अखिलेश यादव ने पद्म पुरस्कारों पर सवाल पूछते हुए कहा कि उत्‍तर प्रदेश में यश भारती अवॉर्ड के साथ एक सम्मान राशि भी दी जाती थी। तो क्या भारत सरकार पद्म पुरस्कार पाने वालों को सम्मान राशि पेंशन के तौर पर देगी। गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि सम्मान के सामने आर्थिक दायरा बहुत कमजोर पड़ेगा, अभी राशि का कोई प्रावधान नहीं है।

'मोदी आकर कहें कि ट्रंप झूठ बोल रहे हैं'

कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘मोदी आकर खुद कहें कि ट्रंप झूठ बोल रहे हैं। प्रधानमंत्री ट्रंप से बातचीत की जानकारी सदन में दें। हम अपने प्रधानमंत्री पर भरोसा करते हैं।’ वहीं लोकसभा में गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) संशोधन विधेयक, 2019 को विचार व पारित करने के अंतर्गत सूचीबद्ध किया गया है। 

लोकसभा में स्‍थगन प्रस्‍ताव

कश्‍मीर के लिए प्रधानमंत्री मोदी द्वारा ट्रंप को मध्‍यस्‍थता करने की पेशकश वाले अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के दावे पर कांग्रेस सांसद के सुरेश ने लोकसभा में स्‍थगन प्रस्‍ताव का नोटिस दिया। देशभर में आदिवासियों की हत्‍या को लेकर भी सात कांग्रेस सांसदों ने स्‍थगन प्रस्‍ताव का नोटिस दिया। देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में अल्‍पसंख्‍यकों गरीब आदिवासियों व महिलाओं पर होने वाले अत्‍याचार को लेकर सपा सांसद अखिलेश यादव ने भी लोकसभा में स्‍थगन प्रस्‍ताव का नोटिस दिया।

राज्‍यसभा में शून्‍य काल नोटिस

विभिन्‍न मुद्दों पर विपक्षी पार्टियों भाजपा, बीजद, वाइएसआर कांग्रेस के सांसदों ने राज्‍यसभा में शून्‍य काल के लिए नोटिस दिया।

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप