एएनआइ। मुंबई। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने दिल्ली हिंसा पर सीधे तौर पर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में शरद पवार ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से दिल्ली जल रही है। केंद्र में सत्तारूढ़ दल दिल्ली विधानसभा चुनाव नहीं जीत सकी और बयानबाजी से सांप्रदायिकता का बढ़ावा देकर समाज को विभाजित करने का प्रयास किया। दिल्ली चुनाव के दौरान भाजपा नेताओं ने अपने बयानों से तनाव फैलाने की कोशिश की है।

वहीं, कांग्रेस ने भी दिल्ली की हिंसा को लेकर कई सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने पुलिस पर एकपक्षीय कार्रवाई का आरोप लगाया है, और सुप्रीम कोर्ट से पूरे मामले में दखल देने की मांग की है। इसके साथ ही कोर्ट से हिंसा को लेकर दर्ज होने वाले सभी मामलों की जांच-पड़ताल के लिए एक न्यायमित्र नियुक्त करने की मांग भी की।

बता दें कि दिल्ली हिंसा के बाद मृतकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। हिंसा में मरने वाली की संख्या बढ़कर अब 45 तक पहुंच गई है। दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले में हुई सांप्रदायिक हिंसा की जांच दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के विशेष जांच दल (एसआइटी) ने शुरू कर दी है। जांच के लिए क्राइम ब्रांच ने उत्तर-पूर्वी जिले के दो थाने भजनपुरा व खजूरी खास में अस्थायी कार्यालय बनाया है। यहां दोनों एसआइटी की टीमें अलग-अलग थानों में बैठकर विस्तृत तफ्तीश कर रही हैं।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस