नई दिल्ली, प्रेट्र। भारत ने अमेरिका को अपने खिलाफ एफ-16 लड़ाकू विमान और एएमआरएएएम का इस्तेमाल किए जाने का सुबूत सौंपा है। पाकिस्तान ने 27 फरवरी को चार भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने के प्रयास में इनका इस्तेमाल किया था। सरकारी सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

मंगलवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने अपने अमेरिकी समकक्ष जॉन बोल्टन से इस मुद्दे पर बातचीत की है।सूत्रों ने बताया कि भारत को यकीन है कि वाशिंगटन अमेरिका निर्मित लड़ाकू विमान का इस्तेमाल करने की गहन जांच करेगा। भारत के खिलाफ आक्रामक अभियान में इस लड़ाकू विमान में मिसाइल भी थी। खरीद समझौते के अनुसार अमेरिका ने प्रतिबंध लगाया था।

पाकिस्तान के लिए कथित रूप से किसी तीसरे देश के खिलाफ एफ-16 का इस्तेमाल प्रतिबंधित है। केवल आत्मरक्षा और आतंक विरोधी अभियान में इसका इस्तेमाल किया जाना है। भारतीय वायुसेना ने 28 फरवरी को एएमआरएएएम मिसाइल के हिस्से का प्रदर्शन किया था। यह पाकिस्तान द्वारा अमेरिका निर्मित एफ-16 का इस्तेमाल किए जाने के सुबूत के तौर पर दिखाया गया था।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस