नई दिल्‍ली, एजेंसी। आपराधिक मानहानि मामले में शनिवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर दिल्ली की रॉउज एवेन्यू कोर्ट में पेश हुए। सुनवाई के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री अकबर ने अपना बयान दर्ज कराया और प्रिया रमानी के खिलाफ दर्ज मानहानि मामले में पूछताछ की गई। एडिशनल चीफ मेट्रोपॉलिटन मजिस्‍ट्रेट समर विशाल के समक्ष पेश अकबर ने कहा कि रमानी द्वारा लगाए गए आरोप गलत हैं। एक अखबार में रमानी की नियुक्‍ति को लेकर उनकी वकील रिबेका जॉन ने अकबर से पूछताछ की। हालांकि, वकील के अधिकतर सवालों के जवाब में अकबर ने कहा- ‘मुझे याद नहीं।‘

पूर्व विदेश राज्य मंत्री और पत्रकार एम.जे. अकबर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली महिला पत्रकारों की लंबी फेहरिस्त में रमानी पहली महिला थीं। आरोपित प्रिया रमानी ने खुद को निर्दोष बताते हुए कहा कि वह ट्रायल का सामना करेंगी। इसके बाद अदालत ने रमानी पर आपराधिक मानहानि के आरोप तय कर दिए। प्रिया रमानी ने अदालत में कहा कि वे ट्रायल के दौरान ही अपना पक्ष रखेंगी। सच ही उनका बचाव है और ट्रायल के दौरान सच को साबित करेंगी।

बता दें कि रमानी ने अदालत में अर्जी दी थी जिसके अनुसार, उनका छोटा बच्चा है और हर पेशी पर अदालत में नहीं आ सकती हैं। इस अर्जी पर शिकायतकर्ता पक्ष ने कोई एतराज नहीं जताया। इसके चलते अदालत ने रमानी को पेशी से स्थायी छूट दे दी।

गौरतलब है कि पूर्व विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट में पिछले साल अक्टूबर में आपराधिक मानहानि का केस दायर किया था। रमानी पर आरोप लगाया कि एमजे अकबर की छवि खराब करने के लिए झूठी कहानी प्रसारित की गई। उनके खिलाफ झूठी कहानियों की श्रृंखला एक एजेंडे की पूर्ति के लिए प्रसारित की गई। इससे न सिर्फ उनकी पारिवारिक बल्कि राजनीतिक छवि पर भी बुरा असर पड़ा।

एमजे अकबर के साथ करीब 20 साल पहले काम कर चुकीं प्रिया रमानी ने ट्विटर पर मी टू अभियान के तहत उन पर यौन दु‌र्व्यवहार का आरोप लगाया था। इसके बाद अन्य महिलाओं ने भी ट्विटर पर ही अकबर पर ऐसे आरोप लगाए थे। अकबर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था और प्रिया रमानी के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मामला दायर किया था।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप