नई दिल्ली [विनीत कुमार त्रिपाठी]। Bank Fruad Case: मोजर बेयर कंपनी के 353 करोड़ रुपये के बैंक फ्रॉड के मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे और मोजर बेयर कंपनी के पूर्व निदेशक रतुल पुरी को बृहस्पतिवार को बड़ा झटका लगा है। प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने दिल्ली की एक अदालत में बृहस्पतिवार को बैंक फ्रॉड के इस मामले में चार्जशीट दाखिल कर दी है। इसे रतुल पुरी के लिए बड़े झटके के तौर पर देखा जा रहा है। 

बता दें कि मोजर बेयर कंपनी के 354 करोड़ रुपये के बैंक फ्रॉड मामले की ईडी जांच कर रही है। जांच की कड़ी में 20 अगस्त को आरोपित रतुल पुरी को ईडी ने दिल्ली से गिरफ्तार किया था। बता दें कि बैंक फ्रॉड के इस मामले में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शिकायत पर सीबीआइ ने रतुल पुरी समते चार और लोगों के खिलाफ 18 अगस्त FIR दर्ज की थी और फिर दो दिन बाद यानी 20 अगस्त को रतुल को गिरफ्तार कर लिया गया था।

कानून के जानकारों की मानें तो रतुल पुरी पर ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था और फिर इसी मामले में दो दिन बाद गिरफ्तारी की गई थी। रतुल पुरी के अलावा, सीबीआइ ने दीपक, नीता के साथ मोजर बेयर कंपनी से जुड़े संजय जैन और विनीत शर्मा के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें भी इस मामले में आरोपित बनाया है। 

वहीं,अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर डील घोटाला मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में दिल्ली की अदालत पहले ही रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत पहले ही 25 अक्टूबर तक बढ़ा चुकी है। बता दें कि ईडी ने कोर्ट में याचिका दाखिल कर रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत मांगी थी। 

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप