मुंबई (एएनआई)। एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कहा है कि ड्रग्‍स मामले में आरोपी बनाए गए बालीवुड अभिनेता शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान ने क्रुज पार्टी में शामिल होने के लिए टिकट नहीं खरीदा था। उन्‍होंने कहा है कि आर्यन खान को प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचर वाला उसको वहां पर लेकर गए गए थे। उन्‍होंने आरोप लगाया है कि इस सभी के पीछे यही दोनों है और ये मामला पूरी तरह से अपहरण और फिरौती से जुड़ा है। नवाब मलीक ने ये भी आरोप लगाया कि मोहित और कंबोज इसके मास्‍टरमाइंट हैं जो समीर वानखेड़े के पार्टनर हैं। वानखेड़े ने ही इस मामले में फिरौती की मांग की थी।

समीर वानखेड़े और मोहित कंबोज 7 अक्‍टूबर को ओशिवाड़ा कब्रिस्‍तान के बाहर मिले थे। इसके बाद वानखेड़े घबरा गए क्‍योंकि उन्‍हें लगता था कि उनपर निगाह रखी जा रही है। इसलिए उन्‍होंने इसकी शिकायत करवाई थी। वो शुशकिस्‍मत थे कि उस दौरान वहां पर लगा सीसीटीवी कैमरा काम नहीं कर रहा था। इसलिए उसकी फीड नहीं मिल सकी।

नवाब मलिक ने ये भी आरोप लगाया कि इस मामले में फैशन टीवी के ब्रांड के पेपर रोल को सीज किया गया था इसी पेपर में ड्रग्‍स का इस्‍तेमाल किया गया था। इसके बावजूद भी इसके मानवालिक को गिरफ्तार क्‍यों नहीं किया गया। काशिफ खान जो इसका मालिक है, को गिरफ्तार किया जाना चाहिए था। उन्‍होंने कहा कि ये भी उनका ही पार्टनर है और उस वक्‍त पार्टी में मौजूद भी था।

मलिक के मुताबिक काशिफ खान ने महाराष्‍ट्र सरकार के मंत्री असलम शेख को भी इस पार्टी में शामिल होने के लिए दबाव डाला था। इसके अलावा उसका प्‍लान इस पार्टी में कई दूसरे नेताओं और उनके बच्‍चों को भी बुलाने का था। वो उड़ता पंजाब के बाद उड़ता महाराष्‍ट्र बनाना चाहता है। बता दें कि इस मामले में शुरू सेही नवाब मलिक वानखेड़े पर निशाना साधे हुए हैं। 

Edited By: Kamal Verma