नई दिल्ली,एएनआई। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाधी और एनसीपी के नेता शरद पवार की मंगलवार को दिल्ली में बैठक हुई। दरअसल इस साल महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में कांग्रेस किसी भी हालत में अपनी जीत दर्ज कराना चाहती हैं। बीजेपी को हराने के लिए वह एनसपी पार्टी के साथ गठबंधन कर सकती है। कयास लगाए जा रहे हैं कि इस मुलाकात का उद्देश्य यही गठबंधन करना है। 

जानकारी के मुताबिक शरद पवार और सोनिया गांधी सीट शेयरिंग पर आखिरी मुहर लगाने चाहते हैं,  इसलिए ये बैठक रखी गई। संभवाना जताई जा रही है कि अगले हफ्ते इसके लिए और बैठकें भी होंगी। गौरतलब है कि ये बैठक अक्टूबर में होने वाली थी, लेकिन मंगलवार को ही इस बैठक को तय किया गया।  

काग्रेस के नेता रह चुक हैं शरद पवार 
शरद पवार इससे पहले कांग्रेस के ही नेता थे। कांग्रेस में रहते हुए वह महाराष्ट के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने रक्षा मंत्रालय और कृषि मंत्रालय की भी जिम्मेदारी भी संभाली है। अपने 50 साल के करियर में उन्होंने महाराष्ट्र की राजनीति में अहम भूमिका निभाई है। 

पार्टी से हुए निष्कासित
उन्होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की नागिरकता पर सवाल उठाया, जिसके बाद पार्टी ने उन्हें निष्कासित कर दिया। कुछ समय बाद शरद पवार ने अपनी एक अलग पार्टी बनाई, जिसका नाम उन्होंने एनसीपी रखा। इसकी नींव पी.ए. संगमा और तारिक अनवर ने शरद पवार के साथ मिलकर रखी। 

यह भी पढ़ें: Positive News: एक हाथ से दे रहे जीवन को आकार, मटके बनाकर चल रहा जीवनयापन

 

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप