मुंबई, एएनआई। कांग्रेस नेता नाना पटोले को निर्विरोध महाराष्ट्र विधानसभा का अध्यक्ष चुना गया। भाजपा उम्मीदवार किसन कथोरे ने अंतिम समय पर रविवार को अपना नामांकन वापस ले लिया है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र विधानसभा में अध्यक्ष का चुनाव निर्विरोध करने की भी परंपरा रही है।

महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि भाजपा ने विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए किसन कथोरे को नामित किया था। हालांकि नवनिर्वाचित विधायकों के निवेदन के बाद हमने उनकी उम्मीदवारी वापस लेने का फैसला किया है।

इससे पहले राज्य की उद्धव सरकार में कैबिनेट मंत्री और वरिष्ठ एनसीपी नेता छगन भुजबल ने भी कहा था कि पहले विपक्ष ने भी स्पीकर पद के लिए उम्मीदवार खड़ा किया था, लेकिन हमारे विधायकों की तरफ से किए गए अनुरोध और विधानसभा की शुचिता बनाए रखने के लिए उन्होंने नाम वापस ले लिया है।

नाना पटोले के विधानसभा अध्यक्ष चुने जाने पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने उन्हें बधाई देते हुए कहा कि नाना पटोले एक किसान परिवार से आए हैं और मुझे विश्वास है कि वह सभी के साथ न्याय करेंगे। 

भाजपा के देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हमने विधानसभा स्पीकर के पद के लिए किसन कथोरे को नामित किया था, लेकिन सर्वदलीय बैठक में अन्य दलों ने हमसे अनुरोध किया और यह परंपरा रही है कि स्पीकर को निर्विरोध नियुक्त किया जाता है, इसलिए हमने अनुरोध स्वीकार कर लिया और अपने उम्मीदवार का नाम वापस ले लिया।

गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास आघाडी सरकार ने शनिवार को राज्य विधानसभा में विश्वास मत हासिल कर लिया। कुल 288 सदस्यों वाले सदन में मतदान से पहले भाजपा के 105 विधायकों के बहिर्गमन करने के बाद कुल 169 विधायकों ने विश्वास मत के पक्ष में वोट दिया।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस