नई दिल्ली, एएनआइ। टीडीपी में मचे घमासान के बीच चंद्रबाबू नायडू पार्टी के डैमेज कंट्रोल में जुट गए हैं। टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू इन दिनों यूरोप में छुट्टियां मना रहे हैं। बीते दिनों पार्टी के चार राज्यसभा सदस्यों के भाजपा में शामिल होने के बाद नायडू अब पार्टी के नेताओं को एकजुट करने में जुट गए हैं।

शनिवार को नायडू ने टेलीकांफ्रेंस के माध्यम से पार्टी के सभी नेताओं संग चर्चा की है। सभी पार्टी नेता उनके अमरावती घर में इकठ्ठे हुए थे। इस दौरान नायडू ने भाजपा में शामिल चार राज्यसभा सदस्यों के बारे में विशेष चर्चा की है।

बता दें कि टीडीपी के राज्यसभा में छह सांसद थे। गुरुवार को राज्यसभा संसदीय दल की बैठक में चार सदस्य- वाईएस चौधरी, सीएम रमेश, जीएम राव और टीजी वेंकटेश ने एक औपचारिक प्रस्ताव पारित कर भाजपा में शामिल होने का फैसला लिया था। भाजपा में शामिल होने वालों में संसदीय दल के नेता वाईएस चौधरी भी हैं।

गौरतलब है कि शुक्रवार को राज्यसभा चेयरमैन वैंकेया नायडू ने टीडीपी के चार राज्यसभा सदस्यों को भाजपा में शामिल होने को मंजूरी दे दी है। अब ये सांसद भाजपा के सांसद माने जाएंगे। इन सांसदों ने राज्यसभा में अपनी पार्टी के भाजपा में विलय की घोषणा की थी। टीडीपी ने इसका विरोध किया था और राज्यसभा के सभापति से मिलकर इनकी सदस्यता खत्म करने की मांग की थी। टीडीपी ने यह भी कहा कि राज्यसभा के सभापति को दलों के विलय को मंजूरी देने का अधिकार नहीं हैैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस