नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। पेगासस के मुद्दे पर चर्चा की मांग पर लगातार गतिरोध के बाद अब माक (समानांतर) संसद चलाकर विरोध को नया आयाम देने में जुटे विपक्ष के रुख को भाजपा ने खर्चा रुपैया और चर्चा चवन्नी करार दिया है। केंद्रीय मंत्री व राज्यसभा में पार्टी के उपनेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि विपक्ष में इस समय आधा दर्जन प्रधानमंत्री इन वेटिंग हैं और इसलिए कांग्रेस चौधरी बनने की फिराक में समानांतर संसद की बात कर रही है। सच्चाई यह है कि एक दो दलों को छोड़ सभी दल कोरोना, किसान आदि मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं। लेकिन कांग्रेस ने उनको दबाव में ला दिया है।

कांग्रेस ही है जासूसी की दुनिया की 'जेम्स बांड

उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को 17 दलों की बैठक बुलाई है। जाहिर तौर से इसमें माक संसद पर चर्चा होगी। नकवी ने कहा कि कांग्रेस को कभी भी आम जनता की परवाह नहीं रही। उसे तो अपने अपने परिवार की सूझती है। यही कारण है कि वह कोरोना, किसानों जैसे मुद्दे पर चर्चा को भूल गई है। वह सिर्फ विवाद खड़ा करना चाहती है। सच्चाई यह है कि कांग्रेस ही जासूसी की दुनिया की 'जेम्स बांड' है। वह पहले जासूसी का जाल बिछाती थी और अब हंगामा खड़ा कर रही है। नकवी ने कहा कि दरअसल उसे चर्चा में कभी विश्वास ही नहीं रहा। संसद बाधित कर करोड़ों का नुकसान करवा रही है और चर्चा चवन्नी भर भी नहीं कर रही।

दुष्प्रचार फैलाकर देश को बदनाम करना कांग्रेस की फितरत : बलूनी

उधर, भाजपा के राज्यसभा सदस्य और पार्टी के मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल बलूनी ने कहा कि जब देश की संसद चल रही है तो कांग्रेस द्वारा इस तरह का विवाद खड़ा करना देश को वास्तिवक मुद्दों से भटकाने की कोशिश है। कांग्रेस हमेशा से ही दुष्प्रचार फैलाकर देश को बदनाम करने की कोशिश में जुटी रहती है। माक संसद के लिए उसके द्वारा की जा रही कवायद भी उससे अलग नहीं है।

 

Edited By: Arun Kumar Singh