ग्वालियर, राज्‍य ब्‍यूरो। दतिया जिले के भांडेर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी फूलसिंह बरैया के एक के बाद एक विवादित वीडियो सामने आ रहे हैं। इसी कड़ी में बरैया का एक और विवादित वीडियो सामने आया है, जिसमें वे झांसी की रानी लक्ष्मीबाई का उपहास करते हुए और उनके बारे में विवादित टिप्पणी कर रहे हैं। ये वीडियो फेसबुक, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया माध्यमों पर वायरल हो रहे हैं। 

सवर्णों को बाहरी और सवर्ण महिलाओं के लिए आपत्तिजनक भाषण के वीडियो भी हो चुके हैं वायरल

वीडियो में बरैया कह रहे हैं कि रानी लक्ष्मीबाई कोई वीरांगना नहीं थीं। वो तो अपने बच्चे को लेकर झांसी से भागी थीं। ग्वालियर में आकर उन्होंने आत्महत्या की थी। ऐसे में लक्ष्मीबाई को वीरांगना नहीं कहा जाना चाहिए। इस वीडियो में जिस मंच से बरैया संबोधित कर रहे हैं, उसमें लगे होर्डिग से पता चल रहा है कि वीडियो नौ अक्टूबर 2015 को आरक्षण समर्थक महारैली का है। इसका स्थल मेला ग्राउंड ग्वालियर था। रैली में हजारों लोग जुटे थे। 

बरैया के अमर्यादित बोल, उन्हीं की जुबानी..

खूब लड़ी मर्दानी वो तो झांसी वाली रानी है..बुंदेले हरबोलो के मुंह हमने सुनी कहानी है। सुनी ही है, यह तो लिखी भी नहीं, क्यों सुनते हो तुम.?

युद्ध का मैदान कहां था..झांसी और मरी आत्महत्या करके (रानी लक्ष्मीबाई) ग्वालियर में। वीरांगना उसी को कहते हैं जो युद्ध के मैदान में मरे। युद्ध का मैदान झांसी में था, मरी थी लक्ष्मीबाई ग्वालियर में 'आत्महत्या करके'। आत्महत्या करने वाले को अगर वीरांगना कहा, तो रोज 10 लड़कियां आत्महत्या कर रही हैं, उन्हें भी लिखो कि वीरांगना हैं ये.. दिमाग से सोचिए आप.लिखी हुई और सुनी हुई बातें मत करिए। कौन लड़ा था मालूम है? इसके बारे में पढि़ए। झलकारी बाई कोरिन हमारी बहन लड़ी थी झांसी में.ये तो बच्चे को ले करके भाग रही थीं, ये ल़़ड़ी नहीं हैं, एक मिनट नहीं लड़ीं। और लिख दिया खूब लड़ी मर्दानी..ओहहह.हो..हो..

आपत्तिजनक बयानों के वीडियो पहले भी हुए थे वायरल 

इससे पहले भी बरैया के दो वीडियो वायरल हो चुके हैं। एक वीडियो में बरैया सवर्णो को बाहर से आया हुआ बता रहे हैं। बरैया इसमें कह रहे हैं कि हम अनुसूचित जाति के लोग और मुसलमान एक ही पिता की संतान हैं चाहे तो डीएनए टेस्ट करा लिया जाए। दूसरे वीडियो में बरैया सवर्ण महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक बात कहते नजर आ रहे हैं। 

नोटिस का जवाब आयोग को भेज चुके हैं बरैया

दतिया के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी बी. विजय दत्ता ने बताया कि पूर्व में वायरल वीडियो के बारे में बरैया को चुनाव आयोग ने नोटिस जारी किया था। उन्होंने अपना जवाब सीधे आयोग को प्रेषित किया है। उन्होंने जिला निर्वाचन कार्यालय को सिर्फ यह सूचित किया है कि नोटिस के परिप्रेक्ष्य में जवाब चुनाव आयोग को भेज चुके हैं।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस