भिंड-शिवपुरी-दतिया, जेएनएन। भिंड के गोहद और शिवपुरी के नरवार में आयोजित चुनावी सभा में राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पूर्व सीएम कमल नाथ, दिग्विजय सिंह का नाम लेकर कहा कि यह सिंधिया परिवार है मत भूलना। 70 साल के इतिहास में चंबल अंचल से कभी 18 से ज्यादा सीट नहीं मिली। आप लोगों ने 26 सीटें दीं। परदेशी बाबू आए, और कुर्सी पर बैठ गए। 15 माह पहले मध्य प्रदेश में नया दूल्हा राजा आया था। क्या नया दूल्हा एक बार भी आपके यहां आया।

राजस्थान में कांग्रेस ने सचिन के साथ धोखा किया

हरियाणा के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कांग्रेस हमेशा से धोखेबाज रही है। कांग्रेस ने सिर्फ सिंधिया के साथ धोखा नहीं किया, राजस्थान में पांच साल सचिन पायलट से संघर्ष और कड़ा परिश्रम कराया। उनके साथ भी विश्वासघात किया। सचिन को कहना चाहता हूं, जिस पार्टी से अपना भला नहीं करवा पाए। मध्य प्रदेश के लोगों का क्या भला करवा पाओगे।

भांडरे में बोले कार्तिकेय चौहान कांग्रेस में न नेता बचा, न नेतृत्व

दतिया के भांडेर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम सालौन बी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पुत्र कार्तिकेय चौहान व गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के पुत्र सुकर्ण मिश्रा पहुंचे। सभा को संबोधित करते हुए कार्तिकेय ने कहा कि कांग्रेस पार्टी से विधायक इतने असंतुष्ट हैं कि वे पार्टी छोड़कर आ रहे हैं, ऐसे में अब कांग्रेस पार्टी के पास न नेता बचा है, और न ही नेतृत्व।

सचिन पायलट का सिंधिया ने किया था स्वागत

वहीं, मंगलवार को सचिन पायलट ने प्रदेश के ग्वालियर, शिवपुरी, भिंड और मुरैना जिले में चुनावी प्रचार किया था। सचिन पायलट के ग्वालियर पहुंचने पर भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उनसे मुलाकात की थी, जिसपर सिंधिया ने कहा था कि मैं उनसे ग्वालियर में मिला और उनका स्वागत किया। इस दौरान ग्वालियर राजघराने के सिंधिया ने कहा था कि मध्य प्रदेश में सबका स्वागत करने की परंपरा है, इसलिए उनका (पायलट) यहां स्वागत है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस